देश की 70 से अधिक वेबसाइट्स पर साइबर अटैक! जानिये, महाराष्ट्र में कितनी वेबसाइट्स को बनाया निशाना

हैक्टिविस्ट समूह ड्रैगनफोर्स मलेशिया द्वारा किए गए इस साइबर अटैक में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के साथ ही इजरायल में भारतीय दूतावास, राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के ई-पोर्टल को निशाना बनाया गया है।

नुपूर शर्मा के कथित रूप से पैगंबर पर आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद देश की लगभग 70 वेबसाइट्स पर अंतरराष्ट्रीय साइबर हमला हुआ है। प्रभावित वेबसाइट्स में निजी और सकारी दोनों शामिल हैं। महाराष्ट्र में 50 से अधिक वेबसाइट्स प्रभावित हुई हैं।

हैक्टिविस्ट समूह ड्रैगन फोर्स मलेशिया द्वारा किए गए इस साइबर अटैक में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के साथ ही इजरायल में भारतीय दूतावास, राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के ई-पोर्टल को निशाना बनाया गया है।

ये भी पढ़ें – राहुल गांधी से ईडी की पूछताछः प्रदर्शन के दौरान हिरासत में लिए गए कांग्रेस के इतने कार्यकर्ता

हैकर्स ने इस बारे में ऑडियो क्लिप और टेक्स्ट के जरिये संदेश भी भेजा है। जिसमें कहा गया है कि तुम्हारे लिए तुम्हारा धर्म है और मेरे लिए मेरा धर्म है। हमें भारतीय लोगों से कोई समस्या नहीं है। वे अपना धर्म चुनने के लिए स्वतंत्र हैं लेकिन उन्हें हमारे धर्म इस्लाम पर हमला नहीं करने देंगे।

महाराष्ट्र में 50 से अधिक वेबसाइट्स हैक
महाराष्ट्र पुलिस की कई वेबसाइट्स भी हैक हो चुकी हैं। इनमें ठाणे पुलिस, साइबर पुलिस और महाराष्ट्र पुलिस की प्रमुख वेबसाइट्स शामिल हैं। वेबसाइट्स को हैक्टिविस्ट ग्रुप नाम के ड्रैगन फोर्स ने मलेशिया से हैक किया है। वेबसाइट्स को हैकर्स के नियंत्रण से मुक्त करने का प्रयास किया जा रहा है।

ग्रुप में 13 सौ से अधिक सदस्य
मिली जानकारी के अनुसार हैकर्स ग्रुप ने इन वेबसाइट्स को 8 और 12 जून के बीच हैक किया। सुरक्षा विशेषज्ञों का मानना है कि इस ग्रुप में कुल 13 सौ से अधिक सदस्य हैं। इन्होंने भारत में एक बैंक की वेबसाइट्स को भी हैक करने का प्रयास किया था।

हैकर्स की अपील
दुनिया भर के सभी मुस्लिम हैकर्स ने मानवाधिकार संगठनों और एक्टिविस्टों से भारत के खिलाफ अभियान चलाने की अपील की है। इस बीच भारतीय अधिकारियों ने 12 जून को इजरायल में भारतीय दूतावास की वेबसाइट को बहाल करने में सफलता हासिल की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here