देश विरोधी प्रोपेगेंडा यूट्यूब चैनलों की अब खैर नहीं, केद्र ऐसे कस रहा है शिकंजा

पिछले कुछ वर्षों से देश विरोधी प्रोपेगेंडा फैलाने वाले चैनलों की बाढ़ आ गई है। सरकार ने ऐसे कई यूट्यूब चैनलों पर शिकंजा कसा है।

केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने 18 अगस्त को आईटी नियम, 2021 के तहत भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था से संबंधित दुष्प्रचार करने वाले आठ यूट्यूब चैनल ब्लॉक कर दिया है।

ब्लॉक किए गए चैनलों में 7 भारतीय और 1 पाकिस्तानी यूट्यूब चैनल है। इन यूट्यूब चैनलों के 114 करोड़ से ज्यादा व्यूज हैं और इनके कुल 85 लाख 73 हजार सब्सक्राइबर हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, ब्लॉक किए गए इन यूट्यूब चैनलों से फेक एंटी-इंडिया कंटेंट को मोनेटाइज किया जा रहा था।

इन चैनलों को किया गया ब्लॉक
इनमें 12.90 लाख सब्सक्राइबर वाले लोकतंत्र टीवी, यूएंडवी टीवी, एम रजवी, गौरवशाली पवन मिथलांचल, सीटॉप 5 टीएच, सरकारी अपडेट और सबकुछ देखो चैनल शामिल है। इसके साथ एक पाकिस्तानी चैनल न्यूज की दुनिया को भी ब्लॉक किया गया है। इन सभी चैनल के लाखों में सब्सक्राइबर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here