फतेहपुर धर्मांतरण मामलाः ‘इस’ अस्पताल के चेयरमैन को तलाश रही है पुलिस

फतेहपुर में धर्मांतरण के एक चर्चित मामले में पुलिस को ब्राडवेल अस्पताल में छापेमारी के दौरान 16 लोगों के पास मिलो चीजों से धर्मान्तरण कराने के सबूत मिले।

फतेहपुर जिले में 4 जनवरी को धर्मांतरण के एक चर्चित मामले में पुलिस को ब्राडवेल अस्पताल में छापेमारी के दौरान 16 लोगों के पास मिलो चीजों से धर्मान्तरण कराने के सबूत मिले। विवेचना के दौरान अस्पताल के चेयरमैन मैथ्यू सैमुअल की संलिप्तता पाई गई। वे चिकित्सक भी हैं और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस उनकी तलाश में है। न्यायालय ने नोटिस जारी कर तीन दिनों में हाजिर होने का आदेश दिए हैं।

शहर के हरिहरगंज स्थित इवेजलिकल चर्च ऑफ इंडिया में दबाव व प्रलोभन के तहत सामान देकर धर्मांतरण के आरोप में पुलिस ने कुल 55 लोगों के खिलाफ पहले ही मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई कर चुकी है। इसमें 35 नामजद हैं। पुलिस ने कार्रवाई कर कई लोगों को जेल भेज चुकी है, जबकि अभी भी तीन आरोपी फरार हैं।

लालच देकर कराया धर्मांतरण
जिन लोगों का प्रलोभन देकर धर्मांतरण कराया गया है, उनमें अनीता देवी, रेखा देवी, सुरेंद्र, आगम, दिनेश, श्रीधर, भूपेंद्र, उदय प्रताप, महेश, रामखेलावन, नीलम, हरीकृष्ण,शोएब अख्तर, मोहम्मद सुभान, सुमन और जितेंद्र है। इन सभी लोगों को सामान और रोजगार देकर धर्मांतरण कराया है।

यह भी पढ़ें – भाजपा का मिशन महाराष्ट्रः ऐसी 18 विधानसभा सीटों पर जीत हासिल करने का लक्ष्य

पाई गई संलिप्तता
प्रभारी निरीक्षक अमित कुमार मिश्रा ने बताया कि विवेचना के दौरान मिशन अस्पताल के चेयरमैन डाक्टर मैथ्यू सैमुअल की संलिप्तता पाई गई। अस्पताल में छापेमारी के दौरान अहम सबूत मिले। वहीं मामले से जुड़े धर्मान्तरण करने वालों के सैकड़ों की संख्या में फोटो ग्राफ्स भी पुलिस को मिले हैं। मुकदमा दर्ज कर आरोपी चिकित्सक की तलाश की जा रही है। न्यायालय के आदेश पर नोटिस जारी की गई है। तीन दिन के अंदर चिकित्सक के हाजिर न होने पर अग्रिम कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here