प्रयागराज बवाल के मास्टर माइंड को मिलेगी किए की सजा, पीडीए ने घर पर चस्पाया ऐसा नोटिस

प्रयागराज में हुए बवाल के बाद पुलिस उप्रदवियों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इसी के तहत बवाल के मास्टर माइंड जावेद के घर बुल्डोजर चलाया जायेगा। प्रयागराज विकास प्रधिकरण (पीडीए) 12 जून की सुबह 11 बजे तक का घर को खाली करने का समय परिवार को दिया था।

भाजपा से निष्कासित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के बयान के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन के दौरान जिले के अटाला इलाके में हुए बवाल के बाद पुलिस का एक्शन जारी है। पुलिस ने शनिवार को इलाके में रहने वाले जावेद पंप को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने दावा किया है कि जावेद पंप इस हिंसा का मास्टरमाइंड है। इसके बाद पीडीए भी एक्शन में आया और जावेद पंप के घर पर नोटिस चस्पाकर उसे खाली करने के लिए कहा है। पीडीए की ओर से चस्पा किए गए नोटिस में कहा गया है कि आज यानी 12 जून को 11 बजे तक घर में रहने वाले सभी लोग अपना सामान हटा ले, वरना उचित कार्रवाई की जायेगी।

जावेद पंप कैसे पड़ा नाम?
प्रयागराज के अटाला निवासी जावेद पंप का सियासी कनेक्शन भी सामने आया है। जावेद पंप वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया का प्रदेश महासचिव भी है। जावेद कभी टुल्लू पंप का काम किया करता था। लोग उसे जावेद पंप कहकर बुलाने लगे और वह इसी नाम से पूरे इलाके में भी जाना जाता है।

तीन मुकदमे दर्ज
प्रयागराज बवाल में करेली एवं खुल्दाबाद पुलिस ने कुल तीन मुकदमे 29 गम्भीर धाराओं में दर्ज किया है। 95 लोगों के खिलाफ नामजद और पांच हजार अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। मामले में एआईएमआईएम के जिलाध्यक्ष शाह आलम, जीशान रहमानी के साथ ही सपा के पार्षद फजल खान, दिलशाद मंसूरी, मजदूर सभा के नेता आशीष मित्तल और अटाला इलाके के हिस्ट्रीशीटर टीपू के खिलाफ भी पुलिस ने नामजद मुकदमा दर्ज किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here