मिजोरम खदान हादसा : आठ श्रमिकों के शव बरामद, 4 की तलाश जारी

लुंगलेई जिला के दूरदराज इलाके में स्थित हंथियाल गांव में पत्थर की खदान में 15 नवंबर को दोपहर बाद करीब ढाई से तीन बजे के बीच हुई।

मिजोरम के लुंगलेई जिला के हंथियाल गांव में पत्थर की खदान ढहने से 12 श्रमिकों के दबने की पुष्टि हुई है। दुर्घटना स्थल पर राहत एवं बचाव कार्य में जुटी एजेंसियों ने बताया है कि अब तक 8 श्रमिकों के शवों को बरामद कर लिया गया है, जबकि 4 श्रमिकों की तलाश जारी है।

यह घटना लुंगलेई जिला के दूरदराज इलाके में स्थित हंथियाल गांव में पत्थर की खदान में 15 नवंबर को दोपहर बाद करीब ढाई से तीन बजे के बीच हुई। घटना की सूचना मिलते ही प्रशासनिक अधिकारी, जिला आपदा प्रबंधन विभाग, एसडीआरएफ, असम रायफल, बीएसएफ एवं एनडीआरएफ के जवान पूरे जोरशोर से राहत एवं बचाव कार्य चला रहे हैं।

एनडीआरएफ के एक अधिकारी ने 15 नवंबर की सुबह बताया कि खदान श्रमिकों की तलाश के लिए जेसीबी मशीनों व हाथ से मलवा हटाने का कार्य किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें – “नेहरू ने की वो बड़ी गलती!” केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया इतिहास की बड़ी भूल

हादसे के शिकार हुए सभी श्रमिक
हादसे के दौरान पत्थर के मलबे में एक स्टोन क्रशर ड्रिलिंग मशी भी फंस गई है। बताया गया है कि हादसे के शिकार हुए सभी श्रमिक गैर मिजो हैं, जिनमें अधिकतर बाहर के रहने वाले हैं। सभी मजदूर निर्माण कंपनी एबीसीआई के तहत काम कर रहे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here