असमः तिनसुकिया जिले के वन क्षेत्र में उल्फा और सेना के बीच भारी गोलीबारी

असम के तिनसुकिया जिले में 14 नवंबर की सुबह सेना और उल्फा में गोलीबारी हुई।

असम के तिनसुकिया जिला के डिगबोई-पेंगेरी को जोड़ने वाले अपर दिहिंग वन क्षेत्र में प्रतिबंधित संगठन यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट आफ असम (उल्फा) स्वाधीन (स्व) और सेना के बीच भारी गोलीबारी हुई।

गोलीबारी 14 नवंबर की सुबह करीब 9 बजे शुरू हुई। पुलिस अधीक्षक अभिजीत गौरव और ऊपरी असम के डीआईजी जीतमल दलै पुलिस और अर्धसैनिक बलों के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर हालात का जायजा ले रहे हैं।

चरमपंथियों ने पुलिस और सुरक्षाबलों को देखते ही शुरू कर दी फायरिंग
अब तक मिली जानकारी के मुताबिक सेना को सूचना मिली थी कि चरमपंथी संगठन उल्फा (स्व) के पांच सदस्यीय समूह ने अपरी दिहिंग वन क्षेत्र में एक शिविर में डेरा डाले हुए हैं। उसके बाद सेना ने पुलिस के साथ मिलकर आज तड़के वन क्षेत्र में छापा मारा। चरमपंथियों ने पुलिस और सुरक्षाबलों को देखते ही पर फायरिंग शुरू कर दी।

आवाजाही पर रोक
आसपास के लोगों ने बताया कि उन्होंने जंगल के अंदर से कई धमाकों की आवाज सुनी है। इस बीच पुलिस ने डिगबोई-पेंगेरी की व्यस्ततम सड़क पर वाहनों की आवाजाही रोक दी है। साथ ही पूरे इलाके की नाकाबंदी कर तलाशी अभियान को तेज कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here