असम : प्रथम एनडीआरएफ का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, अब तक बचाए गए ‘इतने’ लोग

एनडीआरएफ की अतिरिक्त 8 टीमें जिसमें 207 बचाव दल के साथ 21 और 22 जून को एनडीआरएफ की अन्य बटालियनों से सिलचर के लिए एयरलिफ्ट किया गया है।

Created with GIMP

असम में पिछले कुछ दिनों से लगातार जारी बारिश से लगभग पूरा असम जलमग्न हो गया है। आपदा की स्थिति में पहली बटालियन आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) ने अपनी पूरी ताकत, निष्ठा और समर्पण के साथ राज्य बाढ़ प्रभावित जिलों कामरूप (मेट्रो), कामरूप (ग्रामीण), बंगाईगांव, बरपेटा, बजाली, होजाई, नलबाड़ी, दरंग, तामुलपुर, नगांव, उदलगुरी और कछार में अपनी 14 टीमों के साथ 70 नावों और 400 कार्मिकों के साथ त्वरित कार्रवाई में जुटी हुई है।

एनडीआरएफ की अतिरिक्त 8 टीमें जिसमें 207 बचाव दल के साथ 21 और 22 जून को एनडीआरएफ की अन्य बटालियनों से सिलचर के लिए एयरलिफ्ट किया गया है। बाढ़ प्रभावित हिस्सों में लगातार दिन-रात बचाव कार्य के अलावा जिला प्रशासन के साथ मिलकर जरूरतमंद लोगों को राहत सामग्री बांटने का काम भी एनडीआरएफ कर रही है।

प्रथम बटालियन एनडीआरएफ के कमांडेंट एचपीएस कंडारी और सभी अधिकारी बारीकी के साथ राहत एवं बचाव कार्य पर निगरानी रखे हुए हैं। प्रत्येक जिला में बचाव अभियान में बल के जवान सक्रिय भागीदारी ले रहे हैं। रेस्क्यू टीम अब तक बाढ़ में फंसे करीब 14,200 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा चुकी है और प्रक्रिया अभी जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here