पुलिस को चकमा देने के लिए गोवंश तस्करों ने लगाया ऐसा जुगाड़, फिर भी चढ़ गए पुलिस के हत्थे

शिवपुरी हाईवे से ललितपुर की ओर जा रहे ट्रक को संदेह होने पर रक्सा थाना पुलिस ने पकड़ लिया।

रक्सा थाना पुलिस ने 15 जून की सुबह गौवंश से भरकर जा रहे एक ट्रक को दबोच लिया। पुलिस को चकमा देने के लिए ट्रक के आगे और पीछे अलग-अलग नम्बर प्लेट लगाई गई थी। ट्रक को ललितपुर हाईवे के पास से पकड़ा गया है।

ट्रक में सवार दो लोगों को गिरफ्तार कर भूसे की तरह पचास से अधिक गौवंशों को मुक्त कराया गया। वहीं मुक्त गौवंश को गौशाला में न लेने और क्रूरता पूर्वक ट्रक में भरी होने के चलते अधिकांश गौवंशों की मौत की भी बात सामने आई है। पुलिस ने इसकी पुष्टि की है।

ये भी पढ़ें – एमबीबीएस करने के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा देना अनिवार्य? जानिये, चिकित्सा शिक्षा विभाग का क्या है नया नियम

शिवपुरी हाईवे से ललितपुर की ओर जा रहे थे ट्रक
शिवपुरी हाईवे से ललितपुर की ओर जा रहे ट्रक को संदेह होने पर रक्सा थाना पुलिस ने 15 जून सुबह पकड़ लिया। ट्रक के आगे और पीछे दो अलग-अलग नंबर प्लेट लगाकर पुलिस को भ्रमित किया जा रहा था। ट्रक की तलाशी लेने पर उसके अंदर भूसे की तरह भरी 50 से अधिक गौवंश को देख पुलिस सकते में आ गई। पुलिस ने तत्काल ट्रक चालक सहारनपुर निवासी मोहम्मद कलीम और उसके एक अन्य साथी को दबोच लिया।

पूछताछ में हुआ यह खुलासा
पूछताछ में दोनों ने बताया कि वे गौवंश को वध करने के लिए जयपुर से बिहार के सिवनी ले जा रहे थे। पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया। जबकि दो मौके का फायदा उठाकर फरार हो गए। इधर, गौवंश के बरामद होने की सूचना पर हिंदू संगठन के कई नेता और जिला प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गई।

ट्रक के अंदर भरे थे गोवंश
बताया जा रहा क्रूरता पूर्वक ट्रक के अंदर भरे गौवंश को दो गौशाला में सुरक्षित छोड़ने ले जाया गया, लेकिन दोनों ही जगह गौवंश को लेने से इंकार कर दिया। इधर, भूसे के ढेर की तरह भरी पड़ी गौवंशों की गर्मी से हालत खराब होते देख हिंदू संगठन के लोग हंगामा करने लगे। जिला प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच कर सामंजस्य बनाने का प्रयास कर रही थी।

गौशाला में सकुशल भेजने की व्यवस्था
थानाध्यक्ष रक्सा जितेंद सिंह ने बताया कि अधिकांश गौवंशों की कई दिनों तक ट्रक में भरे रहने और गर्मी के चलते मौत हो गई। शेष बचे हुए गौवंश को गौशाला में सकुशल भेजने की व्यवस्था की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here