गुलाब के बाद अब शाहीन चक्रवात का खतरा! इन राज्यों में मच सकती है भारी तबाही

अरब सागर में बन रहा शाहीन तूफान महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्री किनारे वाले क्षेत्रों में तबाही मचा सकता है। भारतीय मौसम विभाग पिछले कई दिनों से देश के कई इलाकों में भारी बारिश के साथ ही चक्रवाती तूफान की चेतावनी जारी कर रहा है।

कोरोना के बाद देश के कई राज्य चक्रवाती तूफान की चपेट में आ गए हैं। गुलाब का सितम अभी जारी ही है कि अब शाहीन का खतरा मंडराने लगा है। इस नए चक्रवात का असर विशेष रुप से महाराष्ट्र और गुजरात में पड़ने की आशंका है। इसका असर इन दो राज्यों के तटीय क्षेत्रों में हो सकता है।

अरब सागर में बन रहा शाहीन तूफान महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्री किनारे वाले क्षेत्रों में तबाही मचा सकता है। भारतीय मौसम विभाग पिछले कई दिनों से देश के कई इलाकों में भारी बारिश के साथ ही चक्रवाती तूफान की चेतावनी जारी कर रहा है। नए पूर्वानुमान में गुजरात सेंट्रल महाराष्ट्र और कोंकण तथा गोवा में अलग-अलग स्थानों पर इसका असर हो सकता है। इन क्षेत्रों में भारी बारिश होने की संभावना व्यक्त की गई है।

ये क्षेत्र हो सकते हैं प्रभावित
पश्चिम बंगाल, मराठवाड़ा और सौराष्ट्र, कच्छ में अलग-अलग क्षेत्रों में भारी बारिश तथा पश्चिम मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, झारखंड, आंध्र प्रदेश के साथ ही केरल, तेलंगाना, कर्नाटक,तमिलनाडु, पुडुचेरी के अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की संभावना व्यक्त की गई है।

ये भी पढ़ेंः एक और मंदिर हुआ इस्लाम मु्क्त… उस निर्णय से मिला हिंदू पुजारी

गुलाब को शाहीन में बदलने की आशंका
इस बीच अच्छी खबर यह है कि गुलाब 29 सितंबर से कमजोर पड़ने लगा है। लेकिन मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में पैदा हुआ चक्रवात गुलाब 2-3 दिनों में चक्रवात शाहीन के रुप में फिर पैदा हो सकता है। चक्रवात शाहीन का नाम कतर ने दिया है, जो हिंद महासागर में एक ट्रॉपिकल चक्रवात के नामकरण के लिए ससदस्य देशों में शामिल है।

उस्मानाबाद में एनडीआरएफ की टीम तैनात
महाराष्ट्र के उस्मानाबाद में एनडीआरएफ की टीमें तैनात की गई हैं। इस प्रदेश में गुलाब तूफान से अब तक 15 लोगों की जान गई है। इसके साथ ही मराठवाड़ा और विदर्भ के इलाकों में इसका डिप्रेशन केंद्र बने होने से भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here