अडानी ग्रुप ने अब इस तरह की जिम्मेदारी लेने से पल्ला झाड़ा!

गुजरात के कच्छ के मुंद्रा पोर्ट पर हेरोइन की बड़ी खेप पकड़ी गई थी। उसकी कीमत 21 हजार करोड़ रुपए से अधिक आंकी गई थी।

गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर हेरोइन की बड़ी खेप पकड़े जाने के कारण आडानी ग्रुप की काफी बदनामी हो रही है। इसे देखते हुए ग्रुप ने बड़ा फैसला लिया है। 11 अक्टूबर को जारी एक बयान में ग्रुप ने स्पष्ट किया है कि अब पाकिस्तान, अफगानिस्तान और ईरान से निर्यातित और आयातित होने वाले कार्गो की जिम्मेदारी अडानी ग्रुप नहीं लेगा। यह फैसला 15 नवंबर से लागू हो जाएगा।

ग्रुप की ओर से कहा गया है कि वह अपने टर्मिनल पर 15 नवंबर से अडानी पोर्ट्स और सेज ईरान पाकिस्तान तथा अफगानिस्तान से इंपोर्ट किए गए कंटेनर की जिम्मेदारी नहीं उठाएगा।

यह है मामला
गौर तलब है कि गुजरात के कच्छ के मुंद्रा पोर्ट पर हेरोइन की बड़ी खेप पकड़ी गई थी। उसकी कीमत 21 हजार करोड़ रुपए से अधिक आंकी गई थी। दो कंटेनर में लगभग 3000 किलो हेरोइन बरामद की गई थी। इसके साथ ही साथ दो लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।

ये भी पढ़ेंः किंग खान के साहबजादे आर्यन पर महबूबा मुफ्ती का ऐसा ट्वीट… ‘मुस्लिम ब्रदरहुड’ कार्ड तो नहीं?

अब तक 8 लोग गिरफ्तार
सरकार की जांच एजेंसी के अनुसार हेरोइन को टैल्क ले जाने वाले दो कंटेनरों में रखा गया था। इस मामले की जांच नेशनल इनवेस्टिगेटिव एजेंसी यानी एनआईए कर रही है। पिछले हफ्ते एजेंसी ने कोयंबटूर, चेन्नई और विजयवाड़ा में इससे जुड़े मामले में छापेमारी भी की थी। इस दौरान कई महत्वपूर्ण दस्तावेज एजेंसी के हाथ लगने की बात कही जा रही है। इस मामले में अब तक चार अफगानी, 1 उजबेकिस्तानी और 3 भारतीय को गिरफ्तार किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here