कोल्हापुर में कांपी धरती! जानिये, रिक्टर स्केल पर कितनी थी भूकंप की तीव्रता

कोल्हापुर जिले में 25 अगस्त को आधी रात बाद दो बजकर 21 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए।

महाराष्ट्र के कोल्हापुर में देर रात लोगों ने भूकंप के झटके महसूस किए। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक भूकंप के झटके रात लगभग 2:21 बजे लोगों ने महसूस किए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.9 मापी गई है। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी नें भूकंप से से किसी को हानि पहुंचने की पुष्टि नहीं की है।

कोल्हापुर जिले में 26 अगस्त को आधी रात बाद दो बजकर 21 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए। नेशनल सेंटर ऑफ सीस्मोलोजी के अनुसार रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.9 पर मापी गई। भूकंप की वजह से किसी तरह के क्षति की सूचना नहीं है।

ये भी पढ़ें – लखनऊ होकर चलने वाली दो ट्रेनें बभनान स्टेशन पर रुकेंगी

कोल्हापुर में भूकंप का असर 10 किलोमीटर के दायरे में महसूस किया गया। रात के समय लोग सोए हुए थे। इसलिए इसकी भनक तक किसी को नहीं लगी। दो दिन पहले नासिक के ढिढ़ोरी में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे।

कैसे आता है भूकंप?
भूकंप के आने का मुख्य कारण धरती के अंदर प्लेटों का टकराना है। धरती के अंदर सात प्लेट्स होती हैं, जो लगातार घूमती रहती हैं। जब ये प्लेटें किसी जगह पर आपस में टकराती हैं, तो वहां फॉल्ट लाइन जोन बन जाता है और सतह के कोने मुड़ जाते हैं। सतह के कोने मुड़ने की वजह से वहां दबाव बनता है और प्लेट्स टूटने लगती हैं। इन प्लेट्स के टूटने से अंदर की एनर्जी बाहर निकलने का रास्ता ढूंढ़ती है, जिसके कारण धरती हिलती है और हम इसे भूकंप मानते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here