बसने शुरू हुए रैन बसेरे, ठंडी में योगी सरकार की पहल

निराश्रित, अक्षम और गरीबों को शीतलहरी में कोई परेशानी न होने पाए, इसके लिए योगी सरकार रैन बसेरे बनाने में जुट गई है। सरकार ने जिम्मेदार संस्थाओं को इसके लिए पर्याप्त धनराशि भी उपलब्ध करा दी है। इस धनराशि से जरूरतमंदों के लिए अलाव जलाने और कम्बल वितरण भी कराया जाएगा। सरकार ने जिम्मेदार अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए हैं कि रैन बसेरे में साफ-सफाई करने के साथ ही किसी तरह के अवैध कब्जे न होने पाएं।

योगी सरकार शीतलहरी से कोई अप्रिय घटना न होने पाए, इसके लिए पहले ही चाक-चौबंद व्यवस्था करने में जुट गई है। सरकार ने प्रदेश भर में जिम्मेदार संस्थाओं को पर्याप्त धनराशि देकर रैन बसेरे बनाने के काम में तेजी ला दी है। सरकार की मंशा है कि जगह-जगह रैन बसेरे बनाकर शीतलहरी से निराश्रित, अक्षम और गरीबों को शरण दी जा सके। सरकार की तरफ से साफ निर्देश दिए गए हैं कि रैन बसेरों के साथ ही जगह-जगह अलाव भी जलाए जाएं और गरीबों में कम्बल भी वितरित कराया जाए।

ये भी पढ़ें – काशी संकुल परियोजना का पीएम करेंगे शिलान्यास, दुग्ध क्रांति के साथ ही हजारों युवाओं को मिलेगा काम

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि रैन बसेरों में अक्षम, निराश्रित और गरीबों को किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए इनकी रोजाना साफ-सफाई कराने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। सरकार ने कहा है कि इन रैन बसेरों में किसी तरह के अवैध कब्जे न होने पाए इस पर समय-समय पर चेकिंग अभियान भी चलाया जाए। मुख्यमंत्री योगी ने एक बैठक के दौरान भी अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here