महाराष्ट्र: ठाणे शहर के नाम दो रिकॉर्ड, जानिये इन उपलब्धियों का क्या है कारण?

विश्व की जनसंख्या 8 बीलियन के आंकड़े तक पहुंची है। जबकि, अकेले भारत की ही जनसंख्या 130 करोड़ के आसपास है।

देश में ठाणे शहर को सबसे अधिक जनसंख्या वाला शहर माना जा रहा है। विश्व 8 बीलियन की जनसंख्या का आंकड़ा छू रहा है। वहीं ठाणे की जनसंख्या एक करोड़ के आंकड़े को पार कर चुकी है। इस उपलब्धि में प्रवासियों की बड़ी भूमिका है। यही आंकड़ा इस शहर को दूसरी ख्याति भी देता है।

विशेषज्ञों के अनुसार ठाणे में जनसंख्या बढ़ोतरी का मूल कारण प्रवासी हैं। इस जिलें में सस्ती में घर उपलब्धता और आवागमन की सुविधा ने इसे प्रवासियों का पसंदीदा जिला बना दिया। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार जिले की जनसंख्या 81,31,849 थी, जो बढ़कर 1,10,60,148 हो गई है। ठाणे जिले की जनसंख्या बढ़ोतरी में जो सबसे बड़ा कारण विशेषज्ञों ने बताया वह प्रवासियों का। इसके कारण जनसंख्या बढ़ी और जनसंख्या के कारण देश में सबसे अधिक महानगर पालिका भी इसी जिले में हैं। इसके दो प्रमुख कारण हैं…

  • ठाणे जिले में सस्ते घर बसने के लिए आसान
  • ठाणे से मुंबई नौकरी करने के लिए लोकल ट्रेन सुविधा उपलब्ध

ये भी पढ़ें – 2024 तक महाविकास आघाड़ी का बनेगा मुख्यमंत्री? पढ़िए, क्या कह रहें हैं राउत

ठाणे जिले की सीमा मुंबई से लगी हुई है। जहां 2011 की जनगणना के अनुसार जनसंख्या बढ़ोतरी 30 प्रतिशत हुई। जिले में बढ़ती जनसंख्या के कारण देश में सबसे अधिक महानगर पालिकाएं भी इसी जिले में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here