जम्मू-कश्मीर में फिर हिंदुओं को बनाया गया निशाना, ‘इस’ आतंकवादी संगठन ने ली जिम्मेदारी

आतंकी हमले के विरोध में सनानत धर्मसभा के साथ कई संगठनों ने राजौरी बंद का ऐलान किया है। सनातम धर्मसभा के अध्यक्ष राजू दत्ता ने कहा कि हिंदुओं को निशाना बनाया जा रहा है और इसे किसी भी कीमत पर बर्दास्त नहीं किया जाएगा।

जम्मू-कश्मीर से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक बार फिर आतंकियों ने हिंदुओं को निशाना बनाया है। दहशतगर्दों ने जम्मू के राजौरी से करीब 10 किलोमीटर दूर बसे डांगरी गांव में हिंदू परिवारों पर गोलियां बरसा दीं। इस गोलीबारी में चार हिंदुओं की मौत हो गई, वहीं नौ लोग घायल बताए जा रहे हैं, जिनमें तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों को एयरलिफ्ट कर जम्मू जीएमसी में भर्ती किया गया है। इस हमले की जिम्मेदारी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े आतंकी संगठन टीआरएफ ने ली है। घटना को अंजाम देने के बाद आतंकवादी फिर से जंगल में छुप गए।

‘इन’ लोगों की हो गई मौत
आतंकी हमले में डांगरी के रहने वाले दीपक कुमार (23), पूर्व सैनिक सतीश कुमार (45), शिवपाल उर्फ आशीश कुमार (32) और प्रीतम लाल (56) की मौत हो गई। जिन लोगों को दहशतगर्दां ने अपना निशाना बनाया है वह सभी आपस में रिश्तेदार बताए जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें- #BOYCOTTSonyTV ट्रेंड्रिंगः सोनी के क्राइम पेट्रोल में आफताब बना हिंदू, श्रद्धा ईसाई

विरोध में बंद का ऐलान
आतंकी हमले के विरोध में सनातन धर्मसभा के साथ कई संगठनों ने राजौरी बंद का ऐलान किया है। सनातन धर्मसभा के अध्यक्ष राजू दत्ता ने कहा कि हिंदुओं को निशाना बनाया जा रहा है और इसे किसी भी कीमत पर बर्दास्त नहीं किया जाएगा। इस हमले के विरोध में सोमवार को सभी बाजार बंद का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि इस घटना के विरोध में हम बंद के साथ ही प्रदर्शन करेंगे। भाजपा जिला अध्यक्ष दिनेश शर्मा ने भी सोमवार को राजौरी बंद का ऐलान किया है। घटना के विरोध में राजोरी अस्पताल में लोगों ने प्रदर्शन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here