जानिये, कर्नाटक- केरल में तबाही मचाने के बाद कहां पहुंचा ताऊ ते!

भारत में मौसम विज्ञान विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग के मुताबिक, दक्षिण महाराष्ट्र, गोवा तथा इससे सटे हुए कर्नाटक के तटों पर हवा की गति 70-80 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है।

चक्रवात ताऊ ते का आतंक कई राज्यों में फैला हुआ है। गुजरात, गोवा, कर्नाटक, केरल तथा महाराष्ट्र की सरकार ने इसे लेकर अलर्ट जारी किया है। इस बीच 16 मई को गोवा के समुद्री तट से टकरा गया। इस कारण यहां ऊंची-ऊंची लहरें उठती देखी गईं। गोवा के तट पर तूफानी हवाओं के साथ ही मूसलाधार बारिश भी जारी रही। यहां कई पेड़ उखड़ कर सड़क पर गिर गए । कर्नाटक में साइक्लोन के बीच तेज बारिश के कारण 4 लोगों की मौत हो गई और राज्य के कुल 73 गांव चक्रवाती तूफान से प्रभावित हुए हैं।

इस बीच वायुसेना ने फिलहाल अपना ध्यान तटीय क्षेत्रों में स्थित कोविड-19 केंद्रों पर केंद्रित कर रखा है। इन क्षेत्रों में स्थित कोविड केंद्र तौकाते से प्रभावित हो सकते हैं।

इन क्षेत्रों के प्रभावित होने का अनुमान
भारत में मौसम विज्ञान विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग के मुताबिक, दक्षिण महाराष्ट्र, गोवा तथा इससे सटे हुए कर्नाटक के तटों पर हवा की गति 70-80 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है। इसके उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने के साथ ही 17 मई की शाम तक गुजरात के तट पर पहुंचने की संभावना है।

यह 18 मई को तड़के पोरबंदर और महुवा के बीच से राज्य के तट को पार करेगा। आईएमडी ने कहा है कि उसने गुजरात तथा दमन एवं दीव के लिए अलर्ट जारी किया है।

ये भी पढ़ेंः मुंबई में चार महीनों में इतने बढ़ गए अपराध!

इतनी हो सकती है हवा की रफ्तार
आईएमडी ने बताया कि 18 मई को हवा की गति 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ने का अनुमान है। कुछ वक्त के लिए हवा की गति 175 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच सकती है।

खास बातें

  • ताऊ ते को लेकर कई राज्यों में अलर्ट जारी किया है।
  • कर्नाटक में साइक्लोन के बीच तेज बारिश के कारण 4 लोगों की मौत हो गई है और राज्य के कुल 73 गांव चक्रवाती तूफान से प्रभावित हुए हैं।
  • महाराष्ट्र् के रत्नागिरी और अन्य जिलों में बारिश होने की खबर है। यहां कई पेड़ गिर गए हैं।
  • ताऊ ते के कारण दक्षिणी राजस्थान के जोधपुर, उदयपुर, अजमेर व कोटा संभाग के जिलों में आंधी और बारिश हो सकती है।
  • इस दौरान यहां 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here