वीरता और सेवा का सम्मान! स्वातंत्र्यवीर सावरकर की 138वीं जयंती व पुरस्कार समारोह

स्वातंत्र्यवीर सावरकर की 138वीं जयंती 28 मई, 2021 को है। इस अवसर पर दिये जानेवाले पुरस्कार की घोषणा भी हो गई है। इस वर्ष का स्वातंत्र्यवीर सावरकर शौर्य पुरस्कार कर्नल संतोष बाबू (मरणोपरान्त) को दिया जाएगा, जबकि समाजसेवा पुरस्कार पुणे की संस्था राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जनकल्याण समिति को दिया जाएगा।

स्वातंत्र्यवीर सावरकर शौर्य पुरस्कार की शुरुआत वर्ष 1989 में की गई। इसमें प्रथम पुरस्कार परमवीर चक्र विजेता नायब सुबेदार बाणासिंह को दिया गया, इसमें अब तक 25 वीरों को सम्मानित किया जा चुका है जिसमें मुंबई आतंकी हमले में आतंकी कसाब को जीवित पकड़नेवाले वीरबाहु तुकाराम ओंबले का भी समावेश है।

ये भी पढ़ें – सुबोध जायसवाल बने सीबीआई प्रमुख और टेंशन में आ गई महाराष्ट्र सरकार! जानने के लिए पढ़ें ये खबर

इसी प्रकार स्वातंत्र्यवीर सावरकर समाजसेवा पुरस्कार की शुरुआत वर्ष 1990 में की गई थी। इसके अतंर्गत समाज और मानव सेवा करनेवाली संस्थाओं और विभूतियों को सम्मानित किया जाता है। पहला पुरस्कार 1990 में श्री गोविंद दत्तात्रेय हर्षे को प्रदान किया गया इसके पश्चात यह क्रम आगे बढ़ता रहा है। इसमें उज्ज्वल निकम, लेफ्टिनेन्ट कर्नल डॉ.एस.पी ज्योति और सुनील देवधर समेत 15 विभूतियों को सम्मान किया जा चुका है।

इस वर्ष दूरदृष्टि से होगा वितरण
यह पुरस्कार कोरोना संसर्ग नियंत्रण के अंतर्गत जारी दिशानिर्देशों के पालन के साथ संपन्न किया जाएगा। इसके अंतर्गत पुरस्कार वितरण का पूरा समारोह दूरदृष्टि के माध्यम से संपन्न होगा। यह कार्यक्रम शुक्रवार सायं 7 बजे स्वातंत्र्यवीर सावरकर राष्ट्रीय स्मारक के फेसबुक पेज पर प्रदर्शित होगा। जिसका प्रसारण देखने के लिए फेसबुक के माध्यम से सीधे जुड़ा जा सकता है।

प्रसारण से जुड़ें
Facebook/You Tube – swatantryaveer savarkar rashtriya smarak
शुक्रवार, 28 मई 2021
सायं 7 बजे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here