गुजरात में मानव सेवा का अद्भुत उदाहरण! विस्तार से जानकारी के लिए पढ़ें ये खबर

गुजरात के वडोदरा में स्वामीनारायण मंदिर ने आपदा की इस घड़ी में मानव सेवा का अप्रतिम उदाहरण पेश किया है।

कोरोना की दूसरी लहर से देश के ज्यादातर राज्य कराह रहे हैं। अस्पतालों में बेड नहीं हैं। कई अस्पतालों में ऑक्सीजन के साथ ही जीवन रक्षक दवाओं की भी कमी है। ऐसे में मानव सेवा के लिए देश के कई मंदिरो ने पहल की है।

गुजरात के वडोदरा में स्वामीनारायण मंदिर ने आपदा की इस घड़ी में मानव सेवा का अप्रतिम उदाहरण पेश किया है। यहां के मंदिर को कोविड अस्पताल में परिवर्तित कर दिया गया है और मरीजों की देखभाल खुद साधु कर रहे हैं। वे उनकी हर जरुरतों को तत्परता से पूरी करने में जुटे हैं। सोशल मीडिया पर मंदिर प्रबंधन की इस पहल की खूब तारीफ हो रही है। आईपीएस आरके विज ने ट्वीट करते हुए इसे खूबसूरत नजारा बताया है।

ये भी पढ़ेंः महाराष्ट्र: कोरोना की आ गई नई नियमावली, जानें समय मर्यादा

प्रेरणादायी घटना
बता दें कि अस्पतालों में पर्याप्त बेड उपलब्ध होने के गुजरात सरकार के दावे पर उच्च न्यायालय ने सवाल उठाया है। इस स्थिति में वडोदरा के इस स्वामीनारायण मंदिर को अस्पताल में बदल कर रोगियों के लिए इतनी अच्छी व्यवस्था करना दूसरे धर्मस्थलों के लिए प्रेरणादायी घटना है।

लॉकडाउन लागू करने से सीएम का इनकार
इस बीच राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपानी ने कहा है कि अब तक, राज्य में लॉकडाउन लागू करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि 20 शहरों में रात के कर्फ्यू जैसे कई प्रतिबंध हैं, सभी शैक्षणिक संस्थान, मॉल, थिएटर, जिम, मनोरंजन पार्क पहले से ही बंद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here