‘आइडेंटिफाई बस स्टैंड’! कैंपेन के लिए एसटी निगम सोशल मीडिया पर ट्रोल

चित्रमय एसटी अभियान में यात्री एसटी स्टैंड की खूबसूरत तस्वीरें लेते हैं, कैप्शन लिखते हैं और निगम को टैग करते हैं।

महाराष्ट्र में लाल परी नाम से मशहूर राज्य परविहन निगम की बस सेवा की खास पहचान है। यह सेवा शहर और गांव के बीच मुख्य कड़ी का काम करती है। इसके कारण लाखों ग्रामीण बच्चों को शहर में आने और शिक्षा प्राप्त करने का मौका मिलता है। लेकिन कोरोना महामारी के वैश्विक संकट के बाद से यह निगम कई तरह की परेशानियों में फंस गया है। इसके साथ ही निजी कंपनियों के बढ़ते वाहनों से भी एसटी सेवा प्रभावित हुई है।

अब निगम ने यात्रियों को आकर्षित करने के लिए ‘चित्रमय एसटी’, ‘आइडेंटिफाई द बस स्टैंड’ जैसी अनूठी पहल की है। निगम इस तरह की पहल कर एक बार फिर से एसटी को लोगों में लोकप्रिय बनाने की कोशिश कर रही है।

क्या है चित्रमय एसटी अभियान?
चित्रमय एसटी अभियान में यात्री एसटी स्टैंड की खूबसूरत तस्वीरें लेते हैं, कैप्शन लिखते हैं और निगम को टैग करते हैं। इन तस्वीरों को निगम के पेज पर अपलोड किया जाता है। एसटी निगम के अधिकारियों को भरोसा है कि इससे लोगों में एसटी के प्रति क्रेज एक बार फिर बढ़ेगा और अधिक से अधिक यात्री एसटी की बसों में यात्रा करने के लिए उत्साहित होंगे।

ये भी पढ़ें – 130 करोड़ लोगों ने दी सावरकर को ‘वीर’ की उपाधि… अमित शाह

ट्रोल हो गया एसटी निगम
एसटी निगम ने सोशल मीडिया के माध्यम से चित्रमय एसटी अभियान चलाकर लोगों को परिवहन की बसों में यात्रा करने के लिए उत्साहित करने का प्रयास किया लेकिन, सोशल मीडिया पर इस कैंपेन को जमकर ट्रोल किया जा रहा है। कई यात्रियों ने इस पर सवाल उठाया है और सुझाव दिया है कि निगम को इस तरह के अभियान के बजाय एसटी बसों की मरम्मत करनी चाहिए, स्टेशनों को साफ रखना चाहिए और सेवा में सुधार करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here