नए साल के जश्न में ये हैं दिशा-निर्देश!

कोविड-19 के दिशा-निर्देशों के अनुरूप ही नया साल भी मनाया जाएगा। इसके लिए देश के बड़े शहरों में स्थानीय प्रशासन ने कड़े नियम जारी किये हैं। जिनका पालन अनिवार्य होगा।

देश में कोविड-19 को रोकने के लिए दिशा-निर्देश लागू हैं। इस बीच ही नया साल भी दर पर दस्तक दे रहा है। इसके लिए देश के शहरों में अलग से भी दिशा-निर्देश जारी किये गए हैं। जिन्हें पहले से ही समझ लेंगे तो नव वर्ष सुखमय और सुरक्षित बीतेगा…

मुंबई

  • 5 जनवरी 2021 तक रात का कर्फ्यू (रात 11 बजे से सुबह 6 बजे)
  • 10 वर्ष से कम और 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को घर से न निकलने की अपील
  • धार्मिक, सांस्कृतिक रैलियों / कार्यक्रमों के आयोजन पर रोक
  • मुंबई पुलिस के लगभग 35,000 कर्मचारी बरतेंगे सड़कों पर निगरानी
  • कोरोना मानदंडों का पालन अनिवार्य
  • रेस्तरां, पब और अन्य मनोरंजक प्रतिष्ठान होंगे रात 11 बजे बंद
  • 31 दिसंबर 2020 को रात 11 बजे दुकान बंद करने में विफल रहने पर कार्रवाई
  • गेटवे ऑफ इंडिया, मरीन ड्राइव, गिरगांव चौपाटी, जुहू, गोराई और मड द्वीप पर जाने की मनाई नहीं लेकिन समूह में न हों चार से अधिक लोग
  • इमारत की छतों और नावों पर पार्टी आयोजन की अनुमति नहीं

दिल्ली

  • दिल्ली पुलिस ने नए साल के सार्वजनिक कार्यक्रम या टेरेस पार्टियों के खिलाफ दी चेतावनी
  • पुलिस अनुमति के बगैर समारोह गैरकानूनी, आयोजकों को देना होगा दंड
  • 31 दिसंबर 2020 के लिए विस्तृत दिशानिर्देश 30 दिसंबर 2020 को होंगे जारी
  • दिल्ली-एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) जैसे कि गाजियाबाद-नोएडा (यूपी), फरीदाबाद-गुड़गांव (हरियाणा) नियम अपने संबंधित राज्य क्षेत्राधिकार के अनुसार भिन्न हो सकते हैं।
  • नोएडा में नए साल की पार्टियों के लिए 100 से अधिक व्यक्तियों को जाने की अनुमति नहीं
  • 31 दिसंबर को गौतम बुद्ध नगर में पार्टियों और कार्यक्रमों का आयोजन करने वालों जिला मजिस्ट्रेट या पुलिस आयुक्त (सीपी) से अनुमति लेनी होगी

बेंगलुरु

बेंगलुरु सिटी पुलिस ने शहर में कोविड -19 स्थिति के प्रसार को रोकने के लिए सभी निवारक और एहतियाती उपायों को लागू करने के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

  • सार्वजनिक स्थानों पर चार से अधिक लोगों के एकत्रित होने पर रोक
  • सार्वजनिक कार्यक्रमों की अनुमति नहीं
  • होटल, मॉल, रेस्तरां, क्लब आदि नियमित तौर पर चलेंगे लेकिन विशेष कार्यक्रमों को अनुमति नहीं है
  • होटलों, रेस्तराओं में केवल ई-टोकन के साथ अग्रिम बुकिंग की अनुमति
  • अधिसूचित क्षेत्रों में कानून के उल्लंघन पर क्षेत्र के पुलिस उपायुक्त होंगे जिम्मेदार

कोलकाता:

कोलकाता में नए साल की पूर्व संध्या पर कुछ सार्वजनिक समारोहों को इजाजत दी गई है। इसमें से कुछ नई दिल्ली में चल रहे कृषि कानूनों के विरोध की तर्ज पर और कुछ सीएए के विरोध प्रदर्शनों पर आधारित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here