अयोध्या में मंदिर, मुंबई में मंथन! क्या है एजेंडा?

24 जून को राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की ओर से मुंबई में इमरजेंसी बैठक बुलाई गई है। इस बैठक को पूरी तरह गुप्त रखा गया है।

अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण परिसर में जमीन खरीदी में कथित रुप से घोटाले को लेकर मुंबई में एक महत्वपूर्ण बैठक बुलाए जाने की खबर है। मिली जानकारी के अनुसार 24 जून को राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की ओर से यह इमरजेंसी बैठक बुलाई गई है। इस बैठक को पूरी तरह गुप्त रखा गया है।

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की इस बैठक में महामंत्री चम्पत राय, कोषाध्यक्ष महंत गोविन्ददेव गिरी जी महाराज, ट्रस्टी डॉ अनिल मिश्र के भी इस बैठक में उपस्थित रहने की जानकारी मिली है।

मीडिया को भी रखा गया है दूर
अचानक मुम्बई में बुलाई गई इस बैठक से मीडिया को भी दूर रखा गया है। ट्रस्ट पर जमीन खरीदी घोटाले के लगाए गए आरोप के बाद बुलाई गई इस पहली बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। बैठक में अन्य ट्रस्टी भी शामिल हो सकते हैं। यहां तक कि मुम्बई में किस स्थान पर यह बैठक होगी, इसे भी ट्रस्ट ने गुप्त रखा है। समझा जा रहा है कि राम मंदिर निर्माण परिसर में जमीन खरीदी घोटाला विवाद पर ट्रस्ट के महामंत्री चम्पत राय और ट्रस्टी डॉ अनिल मिश्र अपना पक्ष रख सकते हैं।

ये भी पढ़ेंः फिर सामने आया ‘महबूबा’ का पाक प्रेम! डोगरा फ्रंट ने प्रदर्शन कर की जेल में डालने की मांग

बैठक में लिए जा सकते हैं ये महत्वपूर्ण निर्णय
सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि संघ के डॉ कृष्ण गोपाल ने कुछ दिन पूर्व राम जन्मभूमि परिसर का निरीक्षण किया था।उसके बाद उन्होंने कथित जमीन खरीदी घोटाला में ट्रस्ट को क्लीन चिट दे दी थी। अनुमान लगाया जा रहा है कि 24 जून की होने वाली बैठक में ट्रस्ट अपना पक्ष स्पष्ट करने के साथ ही अपने ऊपर लगाए जा रहे आरोपों के खिलाफ कदम उठाने का भी निर्णय ले सकता है। साथ ही इस बैठक में इस तरह के आरोप लगाने वाले नेताओं के खिलाफ मानहानि जैसे मुकदमे दायर करने को लेकर भी महत्वपूर्ण निर्णय लिया जा सकता है। बता दें कि इस मामले में ट्रस्ट के पदाधिकारी पहले से ही कानूनी सलाह ले चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here