विश्व के सबसे लंबे रिवर क्रूज को प्रधानमंत्री करेंगे रवाना! जनिये, कब से कर सकते हैं सैर

गंगा नदी में बनारस से डिब्रूगढ़ के बीच चलने वाले क्रूज ‘गंगा विलास’ सोशल मीडिया में छाया हुआ है।

नववर्ष 2023 में धर्म नगरी वाराणसी में घरेलू पर्यटन को नई उड़ान मिलेगी। यहां आने वाले देशी विदेशी पर्यटकों के साथ स्थानीय नागरिकों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री 13 जनवरी को बड़ी सौगात देंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस दिन वाराणसी से दुनिया के सबसे लंबे रिवर क्रूज ‘गंगा विलास’ को वर्चुअल हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। यह जानकारी सूचना और जनसंचार विभाग यूपी ने ट्वीट कर दी।

खास बात यह है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पश्चिम बंगाल में कई परियोजनाओं की शुरुआत की थी। तब उन्होंने कहा था कि काशी से डिब्रूगढ़ तक क्रूज भारत के बढ़ते क्रूज पर्यटन का शानदार उदाहरण होगा।यह दुनिया का अनूठा क्रूज होगा। क्रूज के उद्घाटन के मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी में रह प्रधानमंत्री के कार्यक्रम से जुड़ेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम में भाग लेने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गंगापार रेती पर बनी टेंट सिटी के साथ बैलून व बोट फेस्टिवल का उद्घाटन करेंगे। इसकी प्रशासनिक तैयारी भी शुरू हो गई हैं । पर्यटन विभाग ने बैलून महोत्सव को लेकर अपनी तैयारियों को मूर्त रूप देना शुरू कर दिया है।

 क्रूज ‘गंगा विलास’ सोशल मीडिया में छाया,50 पर्यटक स्थलों से गुजरेगा क्रूज
गंगा नदी में बनारस से डिब्रूगढ़ के बीच चलने वाले क्रूज ‘गंगा विलास’ सोशल मीडिया में छाया हुआ है। दुनिया में नदी पर सबसे लंबी यात्रा करने वाला क्रूज ‘गंगा विलास’50 पर्यटक स्थलों से गुजरेगा। इसमें काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान व सुंदरबन डेल्टा जैसे अभयारण्य शामिल हैं। जलमार्ग प्राधिकरण के अफसरों के अनुसार क्रूज 50 दिनों में गंगा, हुगली, ब्रह्मपुत्र और वेस्ट कोस्ट नहर सहित 27 जलधाराओं से होकर 3200 किलोमीटर लंबी यात्रा पूरी करेगा।

बांग्लादेश में लगभग 1100 किलोमीटर की यात्रा भी शामिल
इसमें बांग्लादेश में लगभग 1100 किलोमीटर की यात्रा भी शामिल है। क्रूज ‘गंगा विलास’ वाराणसी के यात्रा शुरू करेगा और बक्सर, रामनगर, गाजीपुर से होते हुए 8वें दिन पटना पहुंचेगा। पटना से क्रूज 20वें दिन कोलकाता पहुंचेगा। अगले दिन यह बांग्लादेश की सीमा में प्रवेश करेगा। 15 दिन यह बांग्लादेश की जलसीमा में रहेगा। वहां से यह कोलकाता आएगा और बोगीबील (डिब्रूगढ़) पहुंचेगा। इस क्रूज में पर्यटकों के लिए फाइव स्टार होटल जैसी सुविधा मिलेगी। यात्रा करने वाले यात्री क्रूज पर अपने लिए कमरे बुक करा सकेंगे। नदी पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इस लम्बी यात्रा में पर्यटकों को भी नये रोमांच का अनुभव होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here