नगरसेविका के पुत्र की गोली से मौत! दुर्घटना या आत्महत्या?

पुणे के पिंपरी-चिंचवड महानगर पालिका की नगरसेविका के 21 वर्षीय पुत्र की गोली लगने से मौत हो गई है।

पिंपरी-चिंचवड़ मनपा की भारतीय जनता पार्टी की नगरसेविका के पुत्र की गोली लगने से मौत हो गई है। घर में जैसे ही गोली की आवाज सुनाई दी लोग कमरे को ओर दौड़े और पुत्र को अस्पताल ले जाया गया जहां देर रात इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक युवक का नाम प्रसन्ना शेखर चिंचवडे है। प्रसन्ना की उम्र 21 साल थी।

यह हृदय विदारक घटना रविवार रात की है। चिंचवड में अपने निवास पर प्रसन्ना को अपने पिता की लाइसेंसी पिस्तौल से सिर में गोली लगी थी। पिस्तौल से गोली चलने के बाद यह घटना सामने आई। नगरसेविका का नाम करुणा शेखर चिंचवडे है और वह भाजपा से नगरसेविका हैं। प्रसन्न को घायल अवस्था में थेरगांव के एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

रविवार को प्रसन्ना नई कार खरीदने के लिए परिवार के सदस्यों के साथ शोरूम गया था। इसके बाद रविवार रात को ही उसे अचानक पिस्तौल से फायरिंग में गोली लग गई। प्रसन्ना शांत और सहज स्वभाव का था। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि प्रसन्ना ने आत्महत्या की है या पुलिस के संदेह के अनुसार प्रसन्ना पिस्तौल से खेल रहा होगा तब अचानक गोली चल गई। चिंचवड़ पुलिस भी इस दिशा में जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here