105 घंटे में ऐसी सड़क बनाई की बन गया गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड

भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के घोषित आजादी का अमृत महोत्सव के तहत एनएचएआई ने एक विश्व रिकॉर्ड बनाया है और जिसे गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स ने प्रमाणित किया है।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने महाराष्ट्र के अमरावती से अकोला जिलों के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच) 53 पर एक ही लेन में 105 घंटे और 33 मिनट में 75 किलोमीटर की सबसे लंबी बिटुमिनस कंक्रीट बिछाने का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है।

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने 8 जून को रिकॉर्ड की घोषणा करते हुए एक वीडियो संदेश में कहा कि भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के घोषित आजादी का अमृत महोत्सव के तहत एनएचएआई ने एक विश्व रिकॉर्ड बनाया है जिसे गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स ने प्रमाणित किया है।

ये भी पढ़ें – मूसेवाला की अंतिम अरदास में उमड़ी भीड़! पिता हुए भावुक, बेटे के लिए कही ये बात

उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र के अमरावती से अकोला जिलों के बीच एनएच 53 पर एक ही लेन में 105 घंटे 33 मिनट में 75 किमी बिटुमिनस कंक्रीट बिछाने का रिकॉर्ड बनाया गया है। 75 किलोमीटर सिंगल लेन निरंतर बिटुमिनस कंक्रीट रोड की कुल लंबाई, 37.5 किमी टू-लेन पक्की शोल्डर रोड के बराबर है। उन्होंने बताया कि यह काम 3 जून 2022 को सुबह 7:27 बजे शुरू हुआ और 7 जून 2022 को शाम 5 बजे पूरा हुआ।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसमें 2,070 मीट्रिक टन बिटुमेन से युक्त 36,634 मीट्रिक टन बिटुमिनस मिश्रण का उपयोग किया गया है। उन्होंने बताया कि इस परियोजना को पूरा करने के लिए स्वतंत्र सलाहकारों की एक टीम सहित 720 श्रमिकों ने दिन-रात काम किया।

गडकरी ने कहा कि इससे पहले, सबसे लंबे 25.275 किलोमीटर सड़क के लिए लगातार बिटुमिनस बिछाने का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड था जिसे फरवरी 2019 में दोहा, कतर में हासिल किया गया था। इस कार्य को पूरा होने में 10 दिन लगे थे।

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि अमरावती से अकोला खंड एनएच 53 का हिस्सा है, यह एक महत्वपूर्ण गलियारा है जो कोलकाता, रायपुर, नागपुर और सूरत जैसे प्रमुख शहरों को जोड़ता है। उन्होंने कहा कि जब यह पूरा हो जाएगा तो यह खंड इस मार्ग पर यातायात और माल की आवाजाही को आसान बनाने में एक प्रमुख भूमिका निभाएगा।

गडकरी ने एनएचएआई और राजपथ इंफ्राकॉन प्राइवेट लिमिटेड के सभी इंजीनियरों, ठेकेदारों, सलाहकारों, और कामगारों को परियोजना के कुशल कार्यान्वयन के लिए, जिन्होंने इस विश्व रिकॉर्ड को सफलतापूर्वक हासिल करने मदद की है, उन्हें बधाई दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here