कोरोना ऑल आउट! संस्थान और सोसायटी में भी कोविड-19 टीकाकरण… ये हैं दिशा-निर्देश

मुंबई महानगर पालिका क्षेत्र में कोविड-19 टीकाकरण के लिए दिशा-निर्देश जारी हो गए हैं। इसमें प्रशासन, संस्थान, निजी सोसायटी और टीका लेनेवाले की जिम्मदारियों को निश्चित किया गया है। यह एक बड़ा कदम मुंबई महानगर पालिका का माना जा रहा है। जिस पर लोगों की प्रतिक्रिया है कि देर आए दुरुस्त आए।

1. कोविड-19 टीकाकरण के लिए संस्थान, हाउसिंग सोसायटी और आदि की पहचान
ऐसे स्थानों पर टीकाकरण प्रशासन द्वारा पंजीकृत निजी टीकाकरण केंद्रों (पीसीवीसी) द्वारा किया जाएगा
संस्थान प्रबंधन / सोसायटी के सेक्रेटरी को देखना होगा कि कोविन ऐप पर पीसीवीसी पंजीकृत हो
संस्थान प्रबंधन / सोसायटी को अपने सेक्रेटरी को नो़डल ऑफिसर नियुक्त करना होगा, जो पीसीवीसी से टीकाकरण      के लिए संपर्क में रहेगा
नोडल ऑफिसर सभी आवश्यक सुविधाओं की व्यवस्था, टीकाकरण करवाने वालों का पंजीकरण, आवश्यक संसाधनों      की आपुर्ति की व्यवस्था पूर्ण करवाएगा

ये भी पढ़ें – ममता सरकार को कोलकाता उच्च न्यायालय का बड़ा झटका! चुनाव बाद जारी हिंसा पर दिया ये आदेश

2. हाउसिंग सोसायटी के नोडल ऑफिस के कार्य और जिम्मेदारी
नोडल ऑफिसर को यह सुनिश्चित करना होगा कि टीकाकरण करनेवाला पीसीवीसी कोविन पोर्टल पर पंजीकृत हो,        इसके लिए स्थानीय स्वास्थ्य विभाग प्रशासन से संपर्क करके यह जांचना होगा। पीसीवीसी की सूची इसके साथ            संलग्न
नोडल ऑफिसर को सुनिश्चित करना होगा कि पीसीवीसी और सोसायटी के सचिव के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर हों
एमओयू में मान्य बातें, किस पीसीवीसी को टीकाकरण का चयन हुआ, टीकाकरण की तारीख और प्रति टीका मूल्य        को एक्जिक्यूटिव मीटिंग में मान्यता मिले और उसका सोसायटी के मिनट्स में उल्लेख हो, जिसे अधिकारियों के          मांगने पर दिया जा सके
सोसायटी के नोटिस बोर्ड पर पीसीवीसी का नाम, टीकाकरण की तारीख और प्रति टीका मूल्य लगाना अनिवार्य
नोडल अधिकारी को टीकाकरण के लिए तीन कमरे दिलाने होंगे जिसमें प्रतिक्षा कक्ष, टीकाकरण कक्ष और                  ऑब्जरवेशन कक्ष बनाए जा सकें
टीकाकरण के एक दिन पहले टीका लाभार्थियों की सूची तैयार रखना अनिवार्य
टीकाकरण करवाने वाली सोसायटी की जिम्मेदारी होगी कि वह स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारी, पुलिस स्टेशन को तीन      दिन पहले टीकाकरण की तारीख, पीसीवीसी का नाम सूचित करे
नोडल अधिकारी को टीकाकरण में यदि कोई नियम उल्लंघन दिखे तो उसे तत्काल स्वास्थ्य अधिकारी और पुलिस        थाने को सूचित करना होगा
टीकाकरण केंद्र पर समुचित सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध करवाना होगा
टीकाकरण के बाद सभी लाभार्थियों को डिजिटल सर्टिफिकेट मिले यह सुनिश्चित करना नोडल ऑफिसर की                जिम्मेदारी
कोई समस्या या संदेह होने पर एमसीजीएम की हेल्पलाइन नंबर 1916 या वॉर्ड वॉर रूम से संपर्क करें

पीसीवीसी के नोडल ऑफिसर के कार्य और जिममेदारी
टीकाकरण के लिए सोसायटी की पहचान करना, सोसायटी के नोडल अधिकारी से संवाद स्थापित करना और एमओयू      पर हस्ताक्षर करवाना
तीन दिन पहले स्थानीय स्वास्थ्य विभाग को टीकाकरण की जानकारी देना
टीके के स्टोरेज और ट्रांसपोर्ट से संबंधित सुविधाओं को सुनिश्चित करना
टीकाकरण स्थल पर प्रशिक्षित डेटा एंट्री ऑपरेटर, निरिक्षक और टीकाकरण करनेवाले कर्मियों की समुचित                उपलब्धता सुनिश्चित करना
टीकाकरण का तत्काल कोविन पोर्टल पर पंजीकरण सुनिश्चित करना
टीका लगवाने लाभार्थियों को डिजिटल सर्टिफिकेट मिले यह सुनिश्चित करना
टीकाकरण स्थल पर एंबुलेंस की सुविधा तैयार रखना, किसी अनहोनी की दशा में प्रबंधन द्वारा मान्य स्वास्थ्य            सुविधा केंद्र में ले जाना
दिशा-निर्देशों का पालन हो यह देखना इसे कोविन पोर्टल पर अपलोड करना, गूगल शीट बनाना

स्वास्थ्य विभाग के नोडल ऑफिसर के लिए नियम व जिम्मेदारियां
टीकाकरण कैंप की जानकारी मिलने पर स्थानीय स्वास्थ्य विभाग (एमओएच) सुनिश्चित करे कि कोविन पोर्टल पर      हुआ है पंजीकरण
एमओएच और उसका दल टीकाकरण स्थल पर निरिक्षण करें

ये भी पढ़ें – जानिये, मराठा आरक्षण पर फडणवीस का क्या है सुझाव?

बृहन्मुंबई महानगर पालिका द्वारा पंजीकृत निजी टीकाकरण केंद्रों (पीसीवीसी) की वॉर्ड अनुसार सूची जारी की गई है जो इस प्रकार है..

बृहन्मुंबई महानगर पालिका के टीकाकरण केंद्रों की वॉर्ड अनुसार सूची जारी की गई है जो इस प्रकार है..

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here