एसटी कर्मियों का सुसाइड सत्र जारी! अब बीड में हुआ ऐसा

महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम का सरकार में विलय की मांग को लेकर एसटी कर्मी पिछले कुछ दिनों से राज्यव्यापी हड़ताल पर हैं।

महाराष्ट्र में एसटी कर्मियों की हड़ताल जारी है। प्रदेश के 250 बस डिपो में से 100 से ज्यादा बस डिपो बंद हैं। वहीं दूसरी ओर एसटी कर्मचारियों द्वारा भी आक्रामक कदम उठाए जा रहे हैं। बीड डिपो में एक स्तब्ध कर देने वाली घटना उस समय हुई, जब एक नाराज एसटी चालक ने आत्महत्या करने की कोशिश की। चालक का इलाज फिलहाल जिला अस्पताल में चल रहा है। इस कर्मचारी का नाम अशोक कोकटवार है।

महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम का सरकार में विलय की मांग को लेकर एसटी कर्मी पिछले कुछ दिनों से राज्यव्यापी हड़ताल पर हैं। दीवाली के दौरान भी हड़ताल जारी रहने से यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। आर्थिक तंगी से परेशान होकर अब तक 30 से ज्यादा एसटी कर्मियों ने अपनी जान दे दी है।

ये भी पढ़ेंः आग प्रतिबंधक सुविधाओं के लिए महाराष्ट्र को चाहिए इतने करोड़!

129 डिपो में हड़ताल जारी
7 नवंबर को प्रदेश के 129 डिपो में हड़ताल रही। हड़ताल को 17 ट्रेड यूनियनों की कृति समितियों का समर्थन प्राप्त है। नतीजतन, राज्य में 70 फीसदी से ज्यादा एसटी सेवाएं चरमरा गई हैं। एसटी निगम ने समिति की मांगों पर सहमति जताई है और दीवाली के बाद वार्षिक वेतन वृद्धि और विलय पर चर्चा करने का वादा किया है। इसके बावजूद कई एसटी डिपो के कर्मी हड़ताल पर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here