24 दिसंबर का इतिहासः चांद की कक्षा में पहली बार पहुंचा इंसान

24 दिसंबर की तारीख तमाम वजह से दर्ज है। 1968 में 24 दिसंबर को अपोलो-8 चंद्रमा की कक्षा में पहुंचा।

देश-दुनिया के इतिहास में 24 दिसंबर की तारीख तमाम वजह से दर्ज है। 1968 में 24 दिसंबर को अपोलो-8 चंद्रमा की कक्षा में पहुंचा। यह चंद्रमा की कक्षा में पहुंचने वाला पहला मैन्ड मिशन था। ऐस्ट्रोनॉट फ्रैंक बोरमैन, जिम लॉवेल और विलियम एंडर्स ने चांद की कक्षा से लाइव ब्रॉडकास्ट किया। उन्होंने अपने स्पेसक्राफ्ट के अंदर से चांद और पृथ्वी की तस्वीरें भेजीं। एस्ट्रोनॉट विलियम एंडर्स की खींची ‘अर्थराइज’ फोटो के कारण ये मिशन दुनियाभर में चर्चित हुआ। 27 दिसंबर 1968 को यह मिशन पूरा हुआ। इसके बाद अपोलो सीरीज के ही मिशन में से एक अपोलो-11 में मनुष्य पहली बार चांद पर उतरा। इस मिशन के तहत 20 जुलाई, 1969 को नील आर्मस्ट्रॉन्ग और बज एड्रियन ने चांद पर कदम रखे। इस मिशन में उनके साथ माइकल कोलिंस भी थे।

इसके अलावा 2002 में 24 दिसंबर को दिल्ली में पहली बार मेट्रो ट्रेन चली थी। शाहदरा से तीस हजारी कॉरिडोर के बीच चली इस ट्रेन के रूट की लंबाई 8.4 किलोमीटर थी। इस रूट पर 6 स्टेशन थे। तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल विहारी बाजपेयी ने इसका उद्घाटन किया था। दिल्ली मेट्रो अब दिल्ली ही नहीं गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा और ग्रेटर नोएडा के लोगों की जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुकी है। 3 मई 1995 को दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के रजिस्ट्रेशन के महज पांच साल बाद ही मेट्रो सर्विस शुरू करने का श्रेय ई. श्रीधरन को जाता है। ई श्रीधरन को 2005 में फ्रांस सरकार ने देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘नाइट ऑफ द लीजन ऑफ ऑनर’ से सम्मानित किया। 2001 में उन्हें पद्मश्री और 2008 में पद्मविभूषण से नवाजा गया।

और 24 दिसंबर को ही मरुथुर गोपालन रामचंद्रन यानी एमजी रामचंद्रन की पुण्यतिथि मनाई जाती है। उनके चाहने वाले उन्हें एमजीआर कहते हैं। एमजीआर ने तीन दशक तक तमिल सिनेमा पर राज किया। 100 से अधिक फिल्मों में काम किया। इनमें से 28 फिल्मों में जे जयललिता उनकी हीरोइन थीं। बाद में वह उनकी सबसे करीबी सहयोगी रहीं। फिल्मी करियर में भी और राजनीतिक करियर में भी। 30 जुलाई 1977 को तमिलनाडु के मुख्यमंत्री बने। 24 दिसंबर 1987 को अपने निधन तक वो इस पद पर रहे। 1988 में एमजीआर को मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़ें – भारत-बांग्लादेश दूसरा टेस्ट मैच: अब तक भारत ने बनाए ‘इतने’ रन

महत्वपूर्ण घटनाचक्र

1524ः यूरोप से भारत तक पहुंचने के समुद्री मार्ग का पता लगाने वाले पुर्तगाली नाविक वास्को डी गामा का कोच्चि (भारत) में निधन।

1715ः स्वीडन की सेना ने नार्वे पर कब्जा किया।

1798ः रूस और ब्रिटेन के बीच दूसरे फ्रांस विरोधी गठबंधन पर हस्ताक्षर।

1894ः कोलकाता में पहली मेडिकल कॉन्फ्रेंस का आयोजन।

1921ःनोबेल पुरस्कार विजेता रबीन्द्रनाथ ठाकुर ने विश्व भारती विश्वविद्यालय की स्थापना की।

1954ःदक्षिण पूर्वी एशियाई देश लाओस ने स्वतंत्रता हासिल की।

1962ःसोवियत संघ ने नोवाया जेमल्या में परमाणु परीक्षण किया।

1967ः चीन ने लोप नोर क्षेत्र में परमाणु परीक्षण किया।

1986ः लोटस टैंपल श्रद्धालुओं के लिए खोला गया था।

2000ःविश्वनाथन आनंद विश्व शतरंज चैंपियन बने।

2003ःअमेरिकी विदेश विभाग ने 30 जून, 2004 को इराक में सत्ता सौंपने की तैयारी शुरू की।

2005ः यूरोपीय संघ ने खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स नामक संगठन को आतंकी सूची में शामिल किया।

2007ः यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी यान मार्स ने मंगल ग्रह की कक्षा में अपने चार हजार चक्कर पूरे किए।

2011ः क्यूबा की सरकार ने 2900 कैदियों को रिहा करने की घोषणा की

2014ः अटल बिहारी वाजपेयी और मदन मोहन मालवीय को भारत रत्न देने की घोषणा।

जन्म

1892ः साहित्यकार और पत्रकार बनारसीदास चतुर्वेदी ।

1914ः सामाजिक कार्यकर्ता बाबा आम्टे।

1924ः स्वतंत्रता सेनानी नारायण भाई देसाई।

1924: गायक मोहम्मद रफी।

1930ः साहित्यकार उषा प्रियंवदा।।

1956: अभिनेता अनिल कपूर।

1997ः टोक्यो ओलंपिक-2021 में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रचने वाले नीरज चोपड़ा।

निधन

1979ः वैज्ञानिक सतीश चंद्र दासगुप्ता।

1987ः राजनेता और अभिनेता एमजी रामचन्द्रन।

1988ः साहित्यकार जैनेन्द्र कुमार।

2016ः चित्रकार दीनानाथ भार्गव।

दिवस

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस (भारत)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here