बाप रे… अर्थी को करना पड़ा इंतजार तो सरपंच के परिवार ने ऐसा कर दिया

अकलुज में आपसी विवाद के कारण शव को अंत्येष्टि भी शांति से नहीं मिली।

महाराष्ट्र के अकलुज में एक व्यथित करनेवाली घटना घटी है। यहां निजी भूमि में दाह संस्कार से रोकने का मामला प्रकाश में आया है। जिसके बाद मृतक व्यक्ति के परिवार ने ऐसा कड़ा निर्णय किया कि प्रशासन और ग्रामीण दोनों ही सन्न हैं। यह पूरा प्रकरण स्थानीय पुलिस के संज्ञान में था और उसने आश्वासन भी दिया था कि कोई मार्ग निकाल लिया जाएगा।

मालशिरस के बोरगांव स्थित मालेवाडी के सरपंच दशरथ साठे के भाई की मौत हो गई थी। दाह संस्कार के लिए ले जाते समय जिनकी निजी भूमि पर स्मशान था उन लोगों से कुछ विवाद हो गया। इसके बाद अर्थी रुक गई। इसकी जानकारी मिलते ही स्थानीय अकलुज पुलिस भी वहां पहुंच गई। पुलिस ने मृतक के परिवार को समझाते हुए बीच बचाव का मार्ग निकालने का आश्वासन दिया।

ये भी पढ़ें – यहां आस्था के आगे आतंक परास्त हुआ… देखें कैसा है नया सोमनाथ मंदिर

बड़ी देर हो गई
अर्थी को अंतिम संस्कार से रोकने के बाद परिजनों में बहुत नाराजगी थी। शाम तक जब मार्ग नहीं निकल पाया तो परिजन शव को मालेवाडी ग्राम पंचायत कार्यालय लेकर गए। इंतजार में जब बड़ी देर हो गई तो कार्यालय के सामने ही मृतक का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

गलत रूप से वायरल किया गया वीडियो
अकलुज पुलिस थाने के पुलिस निरिक्षक सुगवकर ने बताया कि, वायरल वीडियो को गलत रूप से प्रचारित किया गया है। जिस स्थान पर मृतक के परिजन अंत्येष्टि करना चाहते थे, वह निजी भूमि पर स्थित है। पुलिस ने बातचीत के माध्यम से मार्ग निकालने का आश्वासन दिया था। परंतु, परिजनों ने नहीं माना और ग्राम पंचायत कार्यालय के सामने अंतिम संस्कार कर दिया। इसका वीडियो भी गलत रूप से प्रचारित किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here