महाराष्ट्रः पिंपरी चिंचवड़ में गाड़ियों में तोड़ फोड़ करने वाले पांच आरोपी ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे!

पिंपरी चिंचवड़ के वाकड क्षेत्र में 13 ऑटो रिक्शा में तोड़फोड़ करने के आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। घटना के मुख्य आरोपी किरण घाडगे को  पुलिस ने उसी दिन हथकड़ी पहना दी थी, जिस दिन घटना घटी थी।

महाराष्ट्र के पिंपरी-चिंचवड़ शहर में इन दिनों अपराध चरम पर है। बढ़ती हत्या,चोरी और वाहनों में तोड़फोड़ की घटनाओं के बीच पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस हाई अलर्ट पर है। इसी क्रम में कुछ दिन पहले वाकड क्षेत्र में 13 ऑटो रिक्शा में तोड़फोड़ करने के आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। घटना के मुख्य आरोपी सुरक्षा गार्ड किरण घाडगे को  पुलिस ने उसी दिन हथकड़ी पहना दी थी, जिस दिन घटना घटी थी। उसके बाद अब चार और आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

ये भी पढ़ेंः यूपी चुनाव 2022: भाजपा के लिए 2017 की जीत को दोहराना आसान नहीं! ये हैं चुनौतियां

इस कारण की तोड़ फोड़
बता दें कि पिंचरी चिंचवड़ के वाकड क्षेत्र के म्हतोबा नगर में एक नया काम्पलेक्स बनाया गया है। इसके सामने कई चालक अपने ऑटो रिक्शा पार्क करते थे। आरोपित सुरक्षा गार्ड घडगे ने बताया कि वह वहां पेशाब करता था और बार-बार यह बताने के बावजूद चालक वहीं रिक्शा पार्क करते थे। इससे नाराज घाडगे ने अपने दोस्तों के साथ वहां खड़े कई रिक्शा को पत्थर मारकर तोड़ दिया।

आरोपियों को हथकड़ी पहनाकर शहर में घुमाया
गिरफ्तार लोगों में मुख्य आरोपी, सुरक्षा गार्ड, किरण घाडगे के साथ ही सागर घाडगे, चंद्रकांत गायकवाड़, मयूर अडागले और अविनाश नलवाडे शामिल हैं। पुलिस के अनुसार, म्हतोबा नगर वाकड में 13 रिक्शा में तोड़फोड़ करने वाले किरण घाडगे सहित पांच लोगों को उसी क्षेत्र से दबोचा गया है। इन आरोपियों को हथकड़ी लगाकर शहर में घुमाया गया। वाकड पुलिस के मुताबिक आरोपित को सबक सिखाने और आम जनता के डर को दूर करने के लिए इन्हें शहर में घुमाया गया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here