कांग्रेस के राज्य सभा सांसद राजीव सातव का निधन, कोरोना का चल रहा था उपचार

राज्यसभा सांसद एड राजीव सातव का कोरोना के उपचार के दौरान अस्पताल में निधन हो गया। उनके संसदीय क्षेत्र हिंगोली में खबर मिलते ही शोक की लहर फैल गई।

राज्यसभा सांसद एड राजीव सातव का कोरोना के कारण अस्पताल में उपचार के दौरान निधन हो गया। उनके संसदीय क्षेत्र हिंगोली में खबर मिलते ही शोक की लहर फैल गई।

कांग्रेस सांसद राजीव सातव का 16 मई को निधन हो गया। 22 अप्रैल को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी हालत बिगड़ती चली गई थी और पिछले कई दिनों से उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। उनका उपचार पुणे में जहांगीर अस्पताल में चल रहा था।।

मात्र 46 वर्ष के थे सातव
मात्र 46 वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया। उन्हें संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वे गुजरात में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रभारी थे।

 पुणे के अस्पताल में चल रहा था उपचार
महाराष्ट्र के पुणे के अस्पताल में 16 मई की सुबह उनका निधन हो गया। 22 अप्रैल को वे कोरोना संक्रिमित पाए गए थे। तब से उनका उपचार पुणे के जहांगीर अस्पताल में चल रहा था। कुछ दिनों से उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका और 16 मई की सुबह उनका निधन हो गया।

देश भर से आ रहे हैं शोक संदेश
उनके निधन की खबर मिलते ही देश भर में शोक और संवेदनाएं व्यक्त की जा रही हैं। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि सातव धीरे-धीरे स्वस्थ हो रहे थे। लेकिन उनका स्वास्थ्य दोबारा बिगड़ गया। डॉक्टरों को पता चला है कि वह साइटोमेगालो वायरस से संक्रमित हो गए थे।

पार्टी हाई कमान के करीबी थे सातव
बता दें कि वे कांग्रेस नेता राहुल गांधी के काफी करीबी माने जाते थे। इसके साथ ही उनके कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ भी अच्छे संबंध बताए जाते हैं। उनके निधन के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर संवेदना व्यक्त की।

राहुल गांधी ने भी व्यक्त की संवेदना
सातव के निधन पर राहु गांधी ने भी शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘मैं अपने मित्र सातव के निधन से बहुत दुखी हूं। उनमें नेता कs तौर पर असीम संभावनाएं थीं। यह हम सभी के लिए बड़ी क्षति है। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदनाएं।’

प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति ने शोक व्यक्त किया
इनके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी उनके निधन पर दुख जताते हुए उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

हिंगोली से चुने गए थे सांसद
वे 2014 में महाराष्ट्र के हिंगोली से लोकसभा सांसद चुने गए थे। वर्तमान में वे अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव और गुजरात कांग्रेस के प्रभारी थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here