महाराष्ट्र में बारिश से निपटने की कैसी है तैयारी? जानिये, इस खबर में

31 मई को देर रात तक मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बारिश की तैयारियों के संदर्भ में मुंबई में समीक्षा बैठक की थी।

महाराष्ट्र राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने बारिश से निपटने की तैयारी पूरी कर ली है। इसके तहत राज्य आपदा प्रबंधन ने बारिश से पहले ही पहली बार एनडीआरएफ की 9 इकाइयों को 7 जिलों में तैनात कर दिया है।

इनमें ठाणे और मुंबई में दो-दो , कोल्हापुर, सातारा, रायगढ़, रत्नागिरी और पालघर में एक-एक एनडीआरएफ टीम को तैनात किया गया है। इसी तरह, राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) की एक टुकड़ी को नांदेड़ में और एक टुकड़ी को 15 जून से 15 सितंबर तक गढ़चिरौली में तैनात किया जाएगा। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बारिश में उत्पन्न आपदाओं में कोई मरने न पाए, इस आशय का आदेश राज्य आपदा प्रबंधन विभाग को दिया है।

समीक्षा बैठक कर मुख्यमंत्री ने ली जानकारी
31 मई को देर रात तक मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बारिश की तैयारियों के संदर्भ में मुंबई में समीक्षा बैठक की थी। इस बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि बांधों से पानी छोड़ना हमेशा एक महत्वपूर्ण मुद्दा है। जल संसाधन विभाग के अधिकारियों द्वारा बाढ़ को नियंत्रित किया जा सकता है। जल संसाधन विभाग ने बाढ़ नियंत्रण के लिए बांध से कितना पानी छोड़ा जा रहा है, इसके लिए प्रणाली विकसित की है। इस प्रणाली के चलते ही सूबे का कोई भी व्यक्ति 15 जून से बाढ़ संबंधित सभी जानकारी सीधे जल संसाधन विभाग की वेबसाइट पर देख सकता है। प्री-मानसून बैठक में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सुझाव दिया कि जल संसाधन विभाग को जलाशय से पानी छोड़ने की समुचित व्यवस्था करनी चाहिए और संबंधित अधिकारियों को मुख्यालय में रहने का आदेश देना चाहिए।

बैठक में ये मंत्री-अधिकारी रहे उपस्थित
इस बैठक में उपमुख्यमंत्री अजीत पवार, आपदा प्रबंधन, राहत एवं पुनर्वास मंत्री विजय वडेट्टीवार, मुख्य सचिव मनुकुमार श्रीवास्तव, मुख्यमंत्री कार्यालय के प्रधान सलाहकार सीताराम कुंटे, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव आशीष कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव विकास खड़गे, गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आनंद लिमये, पुलिस महानिदेशक रजनीश सेठ, पुलिस आयुक्त संजय पांडेय, प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य डॉ. प्रदीप व्यास, प्रमुख सचिव राहत एवं पुनर्वास असीम कुमार गुप्ता, मुंबई नगर आयुक्त इकबाल सिंह चहल, सचिव खाद्य और नागरिक आपूर्ति विजय वाघमारे, प्रमुख सचिव जल आपूर्ति संजीव जायसवाल, म्हाडा उपाध्यक्ष अनिल दिग्गीकर, तटरक्षक महानिदेशक अनुराग कौशिक, नौसेना कमांडर कर्नल सुनील रॉय, वायु सेना समूह कमांडर प्रवीण कुमार, मध्य रेलवे के प्रबंध निदेशक एके लाहोटी, पश्चिम रेलवे के अतिरिक्त प्रबंध निदेशक निदेशक पी. बुटानी, ग्रुप कैप्टन प्रवीण कुमार, एमएमआरडी अपर आयुक्त डॉ. केएच गोविंदराज, एनडीआरएफ कमांडर आशीष कुमार, संयुक्त सचिव जल संसाधन अतुल कपोले, मौसम विभाग बैठक में वैज्ञानिक डॉ. जयंत सरकार, एसडीआरएफ के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक चिरंजीव प्रसाद सहित सभी संभागीय आयुक्त, जिला कलेक्टर, नगर आयुक्त उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here