कोरोना की ‘नो टेंशन’, हर्षोल्लास से मना सकते हैं नए साल का जश्न

स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने अपील की है कि राज्य के सभी नागरिक कोरोना नियमों का पालन करते हुए साल के अंत का जश्न मनाएं और नए साल का धमाकेदार स्वागत करें।

नए साल के स्वागत के लिए प्रदेश भर में तैयारियां चल रही हैं। इसी तरह 31 दिसंबर को कैसे मनाया जाए, इसकी भी प्लानिंग शुरू हो गई है। लेकिन चीन में एक बार फिर कोरोना के प्रकोप के चलते भारत के कुछ राज्यों में मास्क अनिवार्य कर दिया गया है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने नए साल का जश्न धूमधाम से मनाने की बात कही है। कोरोना के मद्देनजर महाराष्ट्र के प्रसिद्ध मंदिरों में मास्क अनिवार्य कर दिया गया है।

देर रात्रि तक खुली रहेंगी शराब की दुकानें
कोरोना संकट को देखते हुए आशंका जताई जा रही थी कि कहीं इस बार भी नए साल पर विघ्न न पड़ जाए। राज्य सरकार के आदेश के अनुसार पुणे, पिंपरी-चिंचवड शहर में रेस्तरां और बार सुबह 5 बजे तक खुले रहेंगे और शराब, बीयर और देशी शराब की दुकानें रात 10.30 बजे के बजाय रात्रि एक बजे तक खुली रहेंगी।

ये भी पढ़ें- ठाणे वासियों का दर्द सीधे सुनेगा मुख्यमंत्री कार्यालय, जानिये विशेष कार्यालय का पता

कोरोना नियमों का पालन करने की अपील
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र के नागरिकों को कोरोना से डरने की कोई जरूरत नहीं है। स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने अपील की है कि राज्य के सभी नागरिक कोरोना नियमों का पालन करते हुए साल के अंत का जश्न मनाएं और नए साल का धमाकेदार स्वागत करें। स्वास्थ्य मंत्री के इस आदेश के बाद नागरिकों ने राहत की सांस ली है। इसके साथ ही नए साल के जश्न को लेकर उत्साह भी बढ़ गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here