जर्मन राजदूत वाल्टर ने अपने संदेश से जीता भारतीयों का दिल!

भारत में जर्मन के राजदूत वाल्टर जे. लिंडनर ने अपने ट्वीट से लोगों का दिल जीत लिया है। वाल्टर ने ट्वीट कर कहा है कि भारत ने कोविड-19 के दौरान टीकों और दवाओं से पूरी दुनिया और हमें मदद की है। अब हमारे दोस्त भारत को हमारी मदद की जरुरत है।

देश कोरोना महामारी से जंग लड़ रहा है। इस स्थिति में अमेरिका, रुस, फ्रांस, ब्रिटेन और सऊदी अरब आदि देशों से मदद के हाथ बढ़ रहे हैं। भारत में जर्मन के राजदूत वाल्टर जे. लिंडनर ने अपने ट्वीट से लोगों का दिल जीत लिया है। भारत में राजदूत के रुप में नियुक्त किए जाने के बाद से ही काफी लोकप्रिय वाल्टर ने ट्वीट कर कहा है कि भारत ने कोविड-19 के दौरान टीकों और दवाओं से पूरी दुनिया और हमें मदद की है। अब हमारे दोस्त भारत को हमारी मदद की जरुरत है।

संदेश व तस्वीरें देखना बेहद दुखदायी
वॉल्टर ने आगे कहा कि मैं खुद को आधा भारतीय और आधा जर्मन मानता हूं। जब मैं सोशल मीडिया पर देखता हूं, तो मेरा दिल दहल उठता है। अस्पताल में बिस्तर आदि की तलाश करने वाले लोगों के संदेश व तस्वीरें देखना बेहद दुखदायी है। यहां के लोग बहुत विनम्र होते हैं। हम एक दिन कोरोना पर जरुर विजय प्राप्त करेंगे और हम फिर से भारत की सुंदरता को देखेंगे।

ये भी पढ़ेंः महाराष्ट्र में 18 से 44 आयु वर्ग का नि:शुल्क टीकाकरण, जानें कब से लगेगा टीका?

टीका लेना जरुरी है
टीकाकरण को लेकर उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, ‘मेरा संदेश है कि टीका जरुर लगवाइए। यह बहुत महत्वपूर्ण है। भारत में दो ‘मेड इन इंडिया’ टीके हैं, दोनों ही काफी असरदार हैं।’ बता दें कि फ्रांस भारत को इस आपदा के दौर में हर तरह से मदद कर रहा है।

पीएम ने की रुस के राष्ट्रपति से बात
इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से बात की है। इस बारे में उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि मैंने अपने दास्त पुतिन से फोन पर बात की और कोरोना से उत्पन्न संकट के बारे में चर्चा की। पुतिन ने हमें हर तरह से मदद करने का आश्वासन दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here