मध्य प्रदेश कब तक हो जाएगा कुपोषण मुक्त? मुख्यमंत्री चौहान ने बताया

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेश के आंगनबाड़ी केन्द्रों को उत्कृष्ट बनाने के लिये नई शुरूआत की है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आने वाले एक-डेढ़ साल में मध्य प्रदेश की धरती से कुपोषण का नामो-निशान मिटा देंगे। हर बच्चा स्वस्थ एवं पुष्ट होगा। आंगनबाड़ियां बच्चों के पोषण के साथ ही उनकी शिक्षा एवं संस्कार के केन्द्र बनेंगे। जन-सहयोग से आंगनबाड़ियों को उत्कृष्ट बनाने के लिये आज से शुरू हुआ यह अभियान जन-आंदोलन बन गया है।

मुख्यमंत्री चौहान ने 24 मई शाम को भोपाल के अशोका गार्डन क्षेत्र से आंगनबाड़ियों के लिये जन-सहयोग अभियान का शुभारंभ किया। वे स्वयं हाथ-ठेला लेकर जनता के बीच गये और आंगनबाड़ियों के लिये खिलौने एवं अन्य सामग्री प्राप्त की। अभियान को जनता का अपार समर्थन मिला। लोगों ने अत्यंत उत्साह के साथ आंगनबाड़ियों के लिये खिलौने, खेल-कूद सामग्री, टीवी स्क्रीन, कूलर, वॉटर केम्पर, बर्तन, दरियां आदि मुख्यमंत्री को सौंपी।

ये भी पढ़ें – मेक्सिको में नशे के सौदगरों में गैंगवार! होटल में हमला कर 11 लोगों को उतारा मौत के घाट

3 घंटे में 10 ट्रक सामग्री
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान को मिले अपार जन-सहयोग से मैं अभिभूत हूं। मेरा रोम-रोम पुलकित है। जनता ने जिस पवित्र भाव से आंगनबाड़ियों के लिये सामग्री दी है, उससे हम आंगनबाड़ियों की दशा बदल देंगे। उन्होंने कहा कि आज अभियान को लेकर जनता का उत्साह इतना अधिक था कि 800 मीटर की दूरी तय करने में मुझे 3 घंटे से अधिक समय लगा। सामान लेते-लेते मेरे हाथ थक गये। लगभग 10 ट्रक सामान आंगनबाड़ियों के लिये आया है, जिसे भोपाल जिले के 1800 आंगनबाड़ी केन्द्रों में वितरित किया जायेगा।

वचन-पत्र के साथ 2 करोड़ रुपये का मिला जन-सहयोग
मुख्यमंत्री ने कहा कि आंगनबाड़ियों के लिये सामान के अलावा लगभग 2 करोड़ रुपये की धन राशि आयी है। साथ ही बड़ी संख्या में आंगनबाड़ियों को गोद लेने के लिये लोगों ने वचन-पत्र दिये हैं। अभिनेता अक्षय कुमार ने ट्वीट कर अभियान का समर्थन किया एवं आंगबाड़ियों के लिये एक करोड़ रुपये और 50 आंगनबाड़ियों को गोद लेने की घोषणा की। नोबल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी एवं राष्ट्रीय कवि कुमार विश्वास ने भी हमारे इस अभियान का समर्थन किया है। अशोका गार्डन भोपाल से प्रारंभ हुआ यह अभियान पूरे मध्यप्रदेश के लिये प्रेरणा बनेगा।

मुख्यमंत्री चौहान ने जनता का आह्वान करते हुए कहा कि वे अपने जन्म-दिवस एवं अन्य शुभ अवसरों पर तथा माता-पिता आदि की स्मृति में आंगनबाड़ी केन्द्रों में जायें तथा वहां बच्चों को भोजन, मिठाई, दूध आदि वितरित करें। बच्चे पुष्ट होंगे, तो आपको आत्म-संतोष मिलेगा।

उन्होंने कहा कि भोपाल सहित प्रदेश के हर आंगनबाड़ी केन्द्र में, जहां बिजली कनेक्शन नहीं हैं, वहां शीघ्र बिजली कनेक्शन दिये जाएंगे। उन्होंने कहा कि अब यह अभियान पूरे मध्यप्रदेश में चलाया जायेगा। सभी मंत्री, सांसद, विधायक अपने-अपने क्षेत्रों के आंगनबाड़ी केन्द्रों में जायें और समाज के सभी वर्गों के सहयोग से इस अभियान को सफल बनाएं।

इस मौके पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा कि मुख्यमंत्री चौहान ने प्रदेश के आंगनबाड़ी केन्द्रों को उत्कृष्ट बनाने के लिये नई शुरूआत की है। उनका यह कार्य अद्भुत एवं अनूठा है। सरकार एवं समाज के प्रयासों से प्रदेश का हर आंगनवाड़ी केन्द्र उत्कृष्ट बनेगा। उन्होंने इस अभियान के लिये मुख्यमंत्री चौहान एवं सभी दान-दाताओं का अभिनंदन किया। कार्यक्रम में नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह, लोक निर्माण राज्य मंत्री सुरेश धाकड़, विधायक कृष्णा गौर सहित बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here