जीएसटी संग्रह में बंपर वृद्धि! जानिये, अक्टूबर में कितना रहा कलेक्शन

31 अक्टूबर को ही जीएसटी संग्रह अक्टूबर में 1.5 लाख करोड़ रुपये के पार रहने की संभावना जताई गई थी।

सितंबर महीने में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) राजस्व संग्रह अक्टूबर में 16.6 प्रतिशत बढ़कर 1.52 लाख करोड़ रुपये के स्तर पर पहुंच गया। लगातार आठवें महीने जीएसटी संग्रह 1.40 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा रहा है। यह अब तक का दूसरा सबसे ज्यादा जीएसटी संग्रह है।

वित्त मंत्रालय ने 1 नवंबर को जारी आंकड़ों में बताया कि अक्टूबर महीने में जीएसटी राजस्व संग्रह 16.6 प्रतिशत उछलकर 1,51,718 करोड़ रुपये (1.52 लाख करोड़ रुपये) रहा है। जीएसटी संग्रह पिछले महीने के 1,47,686 करोड़ रुपये मुकाबले 10 हजार करोड़ रुपये ज्यादा रहा है। इससे पहले अप्रैल में जीएसटी संग्रह 1.68 लाख करोड़ रुपये के रिकॉर्ड उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था, जबकि पिछले साल अक्टूबर में यह आंकड़ा 1.30 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा था।

1,51,718 करोड़ रुपये रहा कुल जीएसटी कलेक्शन 
मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक अक्टूबर महीने में सकल जीएसटी संग्रह 1,51,718 करोड़ रुपये रहा। इसमें केंद्रीय जीएसटी 26,039 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी 33,396 करोड़ रुपये और एकीकृत जीएसटी की हिस्सेदारी 81,778 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर एकत्रित 37,297 करोड़ रुपये सहित) है। इसके साथ ही उपकर के जरिए 10,505 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर एकत्रित 825 करोड़ रुपये सहित) शामिल है। जीएसटी राजस्व संग्रह का आंकड़ा लगातार आठवें महीने में 1.40 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा रहा है।

1.50 लाख करोड़ रुपये के पार रहने की थी संभावना
उल्लेखनीय है कि 31 अक्टूबर को ही जीएसटी संग्रह अक्टूबर में 1.5 लाख करोड़ रुपये के पार रहने की संभावना जताई गई थी। इससे पहले राजस्व सचिव तरुण बजाज ने भी पिछले महीने एक कार्यक्रम के दौरान अक्टूबर से जीएसटी संग्रह 1.5 लाख करोड़ रुपये के पार रहने की उम्मीद जताई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here