उत्तराखण्ड में फिर ग्लेशियर टूटा

भारत चीन सीमा पर जोशीमठ में ग्लेशियर टूटने की घटना हुई है।

उत्तराखण्ड के जोशी मठ में ग्लेशियर टूटने की घटना सामने आई है। यह घटना चमोली जिले की है। जहां ये घटना हुई है वहां आबादी नहीं है लेकिन वहां बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन और भारत तिब्बत सीमा पुलिस का पोस्ट है। यह स्थान भारत चीन सीमा के पास स्थित है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ये घटना मलारी और सुमना के बीच घटी है। जहां ये घटना हुई है वहां सेना का दल पहुंचने के प्रयास में है। इस स्थान पर बड़ी आबादी न होने के कारण जनहानि की संभावना बहुत कम है। इससे रेणी में ऋषिगंगा का जलस्तर बढ़ गया है। लगातार बर्फबारी के कारण ये घटना हुई है।

ये भी पढ़ें – खुशखबर! अब कोरोना को हराएगी जाइडस कैडिला की ‘विराफिन’

7 फरवरी 2021 को भी चमोली जिले में ग्लेशियर टूटने की घटना हुई थी। जब 77 लोगों की जान चली गई थी और कई लोग तभी से लापता हैं। इस घटना के बाद आई बाढ़ में ऋषिगंगा और धोलीगान नदियों में जलस्तर बढ़ गया। इसके कारण ऋषिगंगा हाइड्रो परियोजना और तपोवन विष्णूगढ़ हाइड्रो परियोजना को बहुत क्षति पहुंची थी। इन परियोजनाओं में कार्य कर रहे कर्मचारी जीवित ही जमीन में समा गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here