इसलिए पिटे थे अब्दुल ‘मियां’ और ‘प्यादे’ लगे हिंदुओं को कोसने

मुस्लिमों पर हमले के आरोप और उस पर संवेदना व्यक्त करने वालों के गाजियाबाद में कड़ा उत्तर मिला है। जहां सच्चाई सामने आने के बाद हिंदुओं पर आरोप लगानेवालों की साजिश बेपर्दा हो गई है।

जिस बूढ़े मुस्लिम व्यक्ति की पिटाई पर सोशल मीडिया पर प्यादे हाय तौबा मचाए हुए हैं, उसकी सच्चाई सामने आ गई है। गाजियाबाद पुलिस ने इस प्रकरण को सुलझा लिया है और तीन आरोपियों की गिरफ्तारी भी कर ली है। जिसके बाद अपहरण, जय श्रीराम के नारे लगवाने के आरोप और प्रताड़ना का ढोंग धराशायी हो गया है।

5 जून को बुलंदशहर के अब्दुल समद लोनी के बेहटा गांव गए थे। जहां वे परवेश गुज्जर के घर पहुंचे, वहां पर परवेश ने कल्लू, पोली, आरिफ, आदिल और मुशाहिद समेत 10 लोगों को बुला लिया। इन लोगों ने मिलकर अब्दुल समद की पिटाई कर दी। इस प्रकरण में अभद्रता करनेवाले दस लोगों में से पांच मुस्लिम थे और पांच हिंदू।

ये भी पढ़ें – बिहारः चिराग को ऐसे लगा एक और झटका!

तावीज ने पिटवाया
प्राप्त जानकारी के अनुसार अब्दुल समद तावीज बनाने का धंधा करते हैं, उन्होंने गाजियाबाद के परवेश गुज्जर, आरिफ, आदिल, मुशाहिद आदि को चमत्कारी तावीज बनाकर दिया था। परंतु, इन लोगों के साथ तावीज लेने के बाद हुआ उल्टा। जिससे गुस्साए लोग अब्दुल समद का इंतजार कर रहे थे।

5 जून को अब्दुल समद बाइक पर किसी अन्य व्यक्ति के साथ बुलंदशहर से बेहटा गांव में परवेश के घर पहुंचे थे। वहां परवेश समेत आरोपियों ने सभी गुस्साए लोगों को भी वहां बुला लिया। जिसके बाद इन युवकों ने तावीज के उल्टे प्रभाव को लेकर मियां अब्दुल समद की पिटाई शुरू कर दी। इस प्रकरण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो अब्दुल समद ने आरोप लगाया कि उन्हें कुछ लोग अपहृत करके ले गए और उनके साथ मारपीट करके उनसे जय श्रीराम के नारे लगवाए। लेकिन सच्चाई इसकी उलट निकली।

पुलिस ने खोली अब्दुल की पोल
इस प्रकरण में वीडियो का संज्ञान लेते हुए गाजियाबाद पुलिस ने कार्रवाई की और आरोपियों को पकड़ा है। अब्दुल समद जिन्हें अज्ञात बता रहे थे वे सभी उन्हीं के तावीज के ग्राहक निकले।

सेकुलर गैंग का दुष्प्रचार 
सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद तथाकथित सेकुलर गैंग सक्रिय हो गई। इसमें राहुल गांधी भी पीछे नहीं थे। उन्होंने वैसे कहा सही था कि सच्चे राम भक्त ऐसा नहीं कर सकते, क्योंकि अब्दुल मियां के साथ जो हुआ उसमें उनके ही लोग शामिल थे।

ये भी पढ़ें – महाराष्ट्रः पिंपरी चिंचवड़ में गाड़ियों में तोड़ फोड़ करने वाले पांच आरोपी ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे!

हिंदुओं को छोटी-छोटी घटनाओं में कोसनेवाली स्वरा भास्कर भी इस मुद्दे पर चुप नहीं बैठ पाईं। उन्होंने इसके लिए पूरे हिंदू धर्म और उनके देवताओं को समेट लिया। वैसे स्वरा को लेकर ये कोई नई बात नहीं है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here