राजस्थान में मिला कोरोना का ओमिक्रोन XBB.1.5 वैरिएंट! जानिये, कितना खतरनाक है ‘वो’

नए वैरिएंट की पुष्टि के बाद अब चिकित्सा विभाग अलर्ट मोड में आ गया है।

राजस्थान के जयपुर में कोरोना के ओमिक्रोन XBB.1.5 वैरिएंट का पहला मामला सामने आया है। चिकित्सा विभाग के अनुसार यह व्यक्ति सीकर का रहने वाला है और हाल ही में विदेश से लौटा था। मरीज के सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए जयपुर के एसएमएस मेडिकल कॉलेज में भेजे गए थे। राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंस के वीसी और कोरोना के लिए बनाई राज्य सलाहकार समिति के प्रमुख डॉ. सुधीर भंडारी ने इसकी पुष्टि की है।

निकाली जा रही है मरीज की ट्रैवल हिस्ट्री
राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंस के वीसी डॉ. सुधीर भंडारी ने बताया कि सीकर से एक सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए एसएमएस मेडिकल कॉलेज में भेजा गया था। इसके बाद उस मरीज में कोरोना के ओमिक्रोन XBB.1.5 वैरिएंट की पुष्टि हुई है। फिलहाल, चिकित्सा विभाग मरीज की पूरी ट्रैवल हिस्ट्री और अभी तक कितने लोगों से संपर्क में मरीज आया है, उसकी जांच कर रहा है। जल्द ही इसे लेकर एक हेल्थ बुलेटिन भी चिकित्सा विभाग की ओर से जारी किया जाएगा।

नए वैरिएंट की पुष्टि के बाद अलर्ट मोड पर चिकित्सा विभाग
नए वैरिएंट की पुष्टि के बाद अब चिकित्सा विभाग अलर्ट मोड में आ गया है। देश में जब कोरोना को लेकर अलर्ट जारी हुआ था, तब राजस्थान में भी इसे लेकर गाइडलाइन जारी हुई थी। गाइडलाइन के तहत विदेश से आने वाले मरीजों के सैंपल लेकर उन्हें जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जा रहा था। अमेरिका में कोरोना वायरस के ओमिक्रोन वैरिएंट के सब-वैरिएंट XBB.1.5 के कई मामले सामने आए हैं। यह वैरिएंट्स BQ1 वैरिएंट की तुलना में 120 प्रतिशत तेजी से फैलता है। आंकड़ों के मुताबिक भारत में ओमिक्रोन XBB.1.5 वैरिएंट के पांच मामले सामने आए हैं। इनमें से 3 मामले गुजरात में सामने आए हैं। साथ ही एक मामला कर्नाटक और एक राजस्थान में पाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here