उज्जैन के अस्पताल में अग्नितांडव,4 मरीज झुलसे, 80 को बचाया गया

उज्जैन में पाटीदार अस्पताल में आग लगने से हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही दमकल विभाग के कर्मचारी और पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंच गए और बचाव कार्य शुरू कर दिया।

मध्य प्रदेश के उज्जैन में फ्रीगंज स्थित पाटीदार अस्पताल में आग लगने से हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही दमकल विभाग के कर्मचारी और पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंच गए और बचाव कार्य शुरू कर दिया। करीब एक घंटे में आग पर नियंत्रण पा लिया गया लेकिन इस घटना में 4 मरीज घायल हो गए हैं। उन्हें नजदीक के गुरुनानक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि 80 अन्य मरीजों को समय रहते दूसरे अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया।

इस अग्नितांडव में किसी की मौत नहीं हुई है। दमकल विभाग के कर्मचारियों ने कड़ी मेहनत के बाद आग पर नियंत्रण पा लिया। घटना में बड़े पैमाने पर नुकसान होने का अनुमान है।

शॉर्ट सर्किट से लगी आग
प्राथमिक जांच में पता चला है कि आग आईसीयू वार्ड के पास शॉर्ट सर्किट के कारण लगी। हालांकि पुलिस का कहना है कि अभी जांच जारी है। कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि सभी मरीजों को सुरक्षित अन्य अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया है। आईसीयू के दो वार्डों में भर्ती 30 मरीजों को आरडी गार्डी अस्पताल में भेजा गया है। इसके आलावा आग में झुलसे चार मरीजों का इलाज जारी है। वे खतरे से बाहर हैं।

ये भी पढ़ेंः अग्नितांडव जारी है… अब फैशन स्ट्रीट हुआ स्वाहा

ये भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़: नक्सलियों से मठभेड़ में 22 जवानों को वीरगति, नौ नक्सली भी ढेर

350 लोग थे मौजूद
जिस वक्त आग लगी, उस समय अस्पताल में 350 लोग मौजूद थे। अगर समय पर दमकल कर्मचारी नहीं पहुंचते तो बड़ा हादसा हो सकता था। आग बुझाने के लिए दमकल विभाग की 25 गाड़ियों का उपयोग किया गया। इसके आलावा मरीजों को स्थानांतरित करने के लिए 30 एंबुलेंस का उपयोग किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here