कोरोना में कारगर है बूस्टर डोज? अमेरिका के संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ. फाउसी ने बताया

कोरोना के नए वेरिएंट से बचन के लिए बूस्टर डोज देने की बात कही जा रही है। इस बारे में अमेरिका के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फाउसी का मत काफी अहम है।

अमेरिका के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फाउसी ने कहा है कि बूस्टर डोज लगाने के बाद भी अधिक भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाना सुरक्षित नहीं है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का वैरिएंट ओमीक्रोन, डेल्टा वैरिएंट से कम खतरनाक है, फिर भी सावधान अपेक्षित है।

फाउसी ने व्हाइट हाउस की ब्रीफिंग में कहा कि ऐसे कई कार्यक्रम/समारोह हैं, जहां 30, 40 और 50 लोग शामिल होंगे लेकिन हमें यह नहीं पता है कि इनमें से कितने लोग वैक्सीनेटेड हैं। ऐसे में कोरोना के ओमिक्रोन वेरिएंट के बढ़ने का खतरा बढ़ जाता है।

ये भी पढ़ेंः ओमिक्रोन के कारण भारत सहित दुनिया भर में लौटीं पाबंदियां! जानिये, किस देश का, कैसा है हाल

इससे पहले 20 दिसंबर को एंथनी फाउसी ने कहा था कि वैक्सीन और बूस्टर डोज लेने में देरी न करें। हवाई अड्डों जैसी भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से पहले सावधानी बहुत जरूरी है। मास्क का इस्तेमाल अनिवार्य रूप से करें।

बता दें कि विदेशों के साथ भारत में भी पिछले कुछ दिनों से कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन का प्रकोप तेजी से बढ़ रहा है। इस स्थिति में सरकार की चिंता बढ़ गई है। ऐसा भी कहा जा रहा है कि इस वेरिएंट से देश में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here