कोलकाता हवाई अड्डे पर क्यों उतरीं बांग्लादेश जाने वाली 8 फ्लाइट? जानने के लिए पढ़ें ये खबर

बांग्लादेश जाने वाली 8 फ्लाइट यात्रियों के साथ कोलकाता हवाईअड्डे पर उतरी हैं।

भारत के साथ बांग्लादेश में भी सर्दी के साथ घना कोहरा छा रहा है। 28 दिसंबर को बांग्लादेश के शहजालाल हवाई अड्डे पर कम दृश्यता के कारण आठ अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को डायवर्ट किया गया और कोलकाता हवाई अड्डे पर उतारा गया। कोलकाता शहर भी 28 दिसंबर की सुबह से कोहरे की चादर में लिपटा रहा। हालांकि कोलकाता की हवाई सेवाओं पर कोई असर नहीं पड़ा है।

दृश्यता कम होने के कारण डायवर्ट की गईं फ्लाइट्स
बताया गया है कि बांग्लादेश के शहजालाल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर दृश्यता कम होने के कारण सभी उड़ानें डायवर्ट की गईं। जज़ीरा एयरवेज की फ्लाइट J9 533 कुवैत से ढाका के लिए सुबह 5:80 बजे 167 यात्रियों और छह चालक दल के सदस्यों के साथ दमदम हवाई अड्डे पर उतरी। कुआलालम्पुर से ढाका जाने वाली फ्लाइट बीएस 318 में 161 यात्री और छह केबिन क्रू थे, कोलकाता से ढाका जाने वाली इंडिगो की फ्लाइट में 168 यात्री और छह केबिन क्रू थे, कुवैत से ढाका जाने वाली जज़ीरा एयरवेज की फ्लाइट में 165 यात्री और छह केबिन क्रू थे, अमेरिका से ढाका जाने वाली फ्लाइट में 127 यात्री थे और छह केबिन क्रू, जबकि बहरीन से ढाका जाने वाली अल्फ एयरवेज की फ्लाइट में 182 यात्री और छह केबिन क्रू सवार थे। इसके अलावा, सलाम एयरवेज की एक फ्लाइट 162 यात्रियों के साथ मस्कट से ढाका जा रही थी, 158 यात्रियों के साथ एक और फ्लाइट कुआलालाम्पुर से ढाका जा रही थी।

यह भी पढ़ें – अब्दुल सत्तार पर प्रहार, विधान सभा में फडणवीस-दादा में हो गई दंगल

मौसम में सुधार का इंतजार
सभी फ्लाइट यात्रियों के साथ कोलकाता हवाईअड्डे पर उतरी हैं। हवाईअड्डा सूत्रों के मुताबिक मौसम में सुधार होने पर विमान ढाका के लिए रवाना होंगे। घने कोहरे के कारण बुधवार सुबह से ही कोलकाता हवाईअड्डे पर उड़ान सेवाएं बाधित रहीं। सुबह सात बजे तक एयरपोर्ट पर विजिबिलिटी घटकर 900 मीटर रह गई। नतीजतन, विमान धीरे-धीरे उड़े हैं। हवाई अड्डे के अधिकारियों ने उड़ान सेवाओं को सामान्य रखने के लिए उचित उपाय किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here