दिल्ली-एनसीआर के साथ इस राज्य की हिली धरती, लोगों में भय

भूकंप मेघालय के 60 किलोमीटर ईएनई नोंगपोह में आया। इससे पहले लद्दाख के करगिल में भूकंप के झटके महसूस किए गए।

नए साल पर दिल्ली एनसीआर के साथ ही मेघालय में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। एक जनवरी की रात करीब 11 बजकर 28 मिनट पर भूकंप आया। इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.2 मापी गई। भूकंप आने के बाद लोगों में भय का माहौल है।
राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के मुताबिक, भूकंप की गहराई जमीन से 10 किलोमीटर नीचे थी। यह भूकंप मेघालय के 60 किलोमीटर ईएनई नोंगपोह में आया। इससे पहले लद्दाख के करगिल में एक जनवरी की शाम 6 बजकर 32 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.6 मापी गई। भूकंप की गहराई जमीन से 150 किलोमीटर नीचे थी। भूकंप के बाद लोगों में दहशत देखी गई।

ये भी पढ़ें- किम जोंग उन ने बढ़ाई पूरे विश्व की चिंता, परमाणु शक्ति को लेकर की ये प्रतिज्ञा

दिल्ली में महसूस किए गए झटके
इससे पहले नए साल पर दिल्ली और आसपास के इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.8 मापी गई। भूकंप का केंद्र हरियाणा के झज्जर में था। भूकंप की गहराई जमीन से पांच किलोमीटर नीचे थी। भूकंप के बाद लोग घबराए हुए नजर आए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here