18 दिन में पांच बार हिला हिमाचल, लोगों में दहशत

हिमाचल प्रदेश भूकंप की दृष्टि से अति संवेदनशील जोन चार व पांच में आता है। 31 दिसंबर को मंडी जिला में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे।

हिमाचल प्रदेश में एक बार फिर भूकंप के झटके लगे हैं। मंगलवार तड़के साढ़े पांच बजे के आसपास कुछ सेकंड के लिए भूकंप के झटके महसूस किए गए। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के मुताबिक, भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 2.7 थी और इसका केंद्र सोलन जिला के सिहल में जमीन की सतह से पांच किलोमीटर की गहराई पर दर्ज किया गया।
राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के प्रवक्ता ने बताया कि भूकंप की तीव्रता कम होने की वजह से किसी के हताहत या संपत्ति के नुकसान की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है।

ये भी पढ़ें- पश्चिम बंगाल में वंदे भारत एक्सप्रेस पर पथराव, जानें फिर क्या हुआ?

मंडी जिले में महसूस किए गए थे झटके
पिछले 18 दिनों में हिमाचल प्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों में पांच बार भूकंप आया है। तीन दिन पहले यानी 31 दिसंबर को मंडी जिला में भी इतनी ही तीव्रता के भूकंप के झटके लगे थे। इससे पूर्व बीते 26 दिसंबर को कांगड़ा, 21 दिसंबर को लाहौल-स्पीति और 16 दिसंबर को किन्नौर जिला में भूकंप के झटके लग चुके हैं। हालांकि, इन झटकों से जानमाल की कोई क्षति नहीं हुई है। लेकिन बार-बार आ रहे भूकंप से प्रदेश के लोग दहशत में हैं।

अति संवेदनशील जोन में आता है हिमाचल
हिमाचल प्रदेश भूकंप की दृष्टि से अति संवेदनशील जोन चार व पांच में आता है। वर्ष 1905 में कांगड़ा और चम्बा जिलों में आये विनाशकारी भूकंप में 10 हजार से अधिक लोग मारे गए थे। पिछले कई वर्षों से प्रदेश में कम एवं मध्यम तीव्रता के भूकम्प के झटके लग रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here