कोरोना की आफत के बीच जोरों पर जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी!

दिल्ली में रेमडेसवीर की कालाबाजारी का मामला उजागर हुआ है। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

देश में नाजुक मौके पर भी चौके-छक्के लगाने वालों की कमी नहीं है, भले ही उनकी वजह से दूसरों की सांसें अटक जाए। ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है। दिल्ली में रेमडेसवीर की कालाबाजारी का मामला उजागर हुआ है। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

दिल्ली में गिरफ्तार किए गए इन आरोपियों के पास से 1 लाख 20 हजार रुपए बरामद किए हैं। इसके साथ ही तीन इंजेक्शन और वाहन के साथ ही 100 ऑक्सीमीटर तथा 48 छोटे आकार के ऑक्सीजन सिलेंडर भी जब्त किए गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार ये रेमडेसवीर इंजेक्शन 40 हजार रुपए में बेच रहे थे। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जीवनरक्षक दवाओं की भारी कमी
बता दें कि दिल्ली में कोरोना विस्फोट के कारण यहां के अस्पतालों में ऑक्सीजन और रेमडेसवीर जैसी जीवन रक्षक दवाओं की भारी कमी है। दो दिन पहले ही यहां के सर गंगाराम अस्पताल में ऑक्सीजन न मिलने से 25 मरीजों की जान जाने की बात कही जा रही है। इसके साथ ही कई अन्य अस्पतालों में भी ऑक्सीजन नहीं मिलने से मरीजों की मौत होने का दावा किया जा रहा है। साथ ही वर्तमान में भी कई मरीजों की सांसें ऑक्सीजन और अन्य जीवन रक्षक दवाओं के अभाव में टूटने को है। इस हालत में भी धंधेबाज अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे हैं। ये हर तरह की मानवता और नैतिकता को ताक पर रखकर थोड़े से पैसे के लिए इस तरह के अपराध कर रहे हैं।

ये भी पढ़ेंः कोरोना का कोहरामः दिल्ली में बढ़ा लॉकडाउन!

छत्तीसगढ़ मे भी चार आरोपी गिरफ्तार
इस बीच छत्तीसगढ़ के रायपुर में भी चार लोगों को गिरफ्तार कर उनके पास से एंटी वायरल दवा रेमडेसवीर बरामद की गई है। ये 25 हजार में रेमडेसवीर बेच रहे थे।

ऐसे लोगों की कमी नहीं
ऐसे कई लोग हैं, जो इस नाजुक वक्त में भी इस तरह की हरकत कर मानवता को शर्मसार कर रहे हैं। एक दिन पहले ही महाराष्ट्र के थाने में एक डॉक्टर द्वारा मरीजों की भर्ती के लिए तीन-तीन लाख रुपए मांगे जाने का मामला उजागर हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here