राज्यकर्मियों और पेंशनभोगियों के लिए खुशखबरी! ‘इतना’ बढ़ा महंगाई भत्ता

सरकार ने पांचवें वेतनमान के मुताबिक वेतन और पेंशन पाने वालों के महंगाई भत्ते में वृद्धि कर दी गयी है।

नीतीश कैबिनेट की 15 नवंबर हुई बैठक में राज्य के कर्मियों के महंगाई भत्ते में वृद्धि करने का निर्णय लिया गया है। इससे राज्य कर्मियों में खुशी है। सरकार ने पांचवें वेतनमान के मुताबिक वेतन और पेंशन पाने वालों के महंगाई भत्ते में 15 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गयी है। अब ऐसे कर्मियों और पेंशन धारियों को 381 प्रतिशत की जगह 396 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिलेगा। जो 1 जुलाई 2022 के प्रभावी होगा।

केंद्रीय वेतनमान के आधार पर वेतन और पेंशन पाने वाले राज्य सरकार के सेवकों और पेंशन भोगियों को भी बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता मिलेगा। अब इन्हें 203 फ़ीसदी के स्थान पर 212 फ़ीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा। यह बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता भी 1 जुलाई 2022 के प्रभाव से लागू होगा।

ये भी पढ़ें – 2024 तक महाविकास आघाड़ी का बनेगा मुख्यमंत्री? पढ़िए, क्या कह रहें हैं राउत

छह साल से ड्यूटी में अनुपस्थित चिकित्सा पदाधिकारी बर्खास्त
कैबिनेट की बैठक में राज्य सरकार ने एक और महत्वपूर्ण प्रस्ताव में गया के नीमचक बथानी स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की चिकित्सा पदाधिकारी रही डॉक्टर मंजू कुमारी को सेवा से बर्खास्त करने का फैसला किया है। डॉक्टर मंजू कुमारी 3 जून 2016 से बिना किसी सूचना के अनुपस्थित थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here