कोविड-19 संक्रमण पर ये नहीं पढ़ा तो क्या पढ़ा.. खबर ऐसी जो खुश कर देगी

कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए मिली एक और दवाई।

कोविड-19 की एंटीवायरल दवा को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीए) ने आपात उपयोग की अनुनति दे दी है। यह औषधि कोरोना के हल्के लक्षणोंवाले संक्रमितों पर उपयोगी होगा। इस गोली ने तीसरे चरण में सकारात्मक परिणाम दिये हैं।

दवा निर्माता कंपनी हेटेरो की गोली है मोलनुपिराविर जिसने क्लिनिकल ट्रायल में सकारात्मक परिणाम दिया है। कंपनी का दावा है कि प्रथम चरण के कोविड-19 संक्रमितों में यह दवा पांच दिनों में वायरस को समाप्त कर सकती है। अप्रैल में हेटेरो ने भारत में मोलनुपिराविर दवा का उत्पादन करनेवाली कंपनी एमएसडी के साथ लाइसेंस समझौता किया था। यह कंपनी विश्व के 100 से अधिक देशों में दवा की आपूर्ति करती है।

मोलनुपिराविर का फेज-3 ट्रायल 1218 कोविड-19 संक्रमितों पर किया गया था। इसकी रिपोर्ट के आधार पर ही अनुमति मांगी गई थी। इस टैबलेट को मर्क और रिजबैक बायोथेरापेटिक्स एनपी ने तैयार किया है। हेटेरो जेनेरिक दवाओं की अग्रणी निर्माता कंपनी है और विश्व में एंटी रेट्रोवायरल ड्रग्स की सबसे उत्पादक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here