महाराष्ट्र के इन क्षेत्रों में अब भी कोरोना दे रहा टेंशन

राज्य में कोरोना दिशानिर्देश कुछ शिथिलता के साथ चल ही रहे हैं। इस बीच कुछ क्षेत्रों में आंकड़ों में बढ़ोत्तरी से चिंता होने लगी है।

कोरोना की तीसरी लहर की से कैसे निपटना है इसकी तैयारी देश में हो रही है, परंतु महाराष्ट्र के कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जहां अभी भी कोरोना की दूसरी लहर का जोर बना हुआ है। यहां पॉजिटिविटी दर चिंता का विषय है। जिसके कारण कोरोना जांच, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग पर जोर देने की मांग भी हो रही है।

कोविड-19 की दूसरी लहर पिछले चार महीने से त्राहि मचा रही है। फरवरी के अंतिम सप्ताह में 60 हजार संक्रमितों का आंकड़ा सामने आया था, जो 4.5 लाख तक पहुंच गया। परंतु, मई महीने से इसमें घटोत्तरी होनी प्रारंभ हो गई है। किंतु, पश्चिमी महाराष्ट्र और कोकण में यह अब भी चिंता का विषय बना हुआ है। इन जिलो में पॉजिटिविटी दर अब भी पांच प्रतिशत के ऊपर है।

ये भी पढ़ें – जानें क्या है विस्तारवादी चीन की नई घातक चाल… वैश्विक स्तर पर हुआ बवाल

यहां पॉजिटिविटी दर से दिक्कत

  • कोल्हापुर  10.24
  • सातारा      9.14
  • सांगली      8.81
  • रायगढ      7.88
  • पुणे          7.68
  • रत्नागिरी   7.29
  • सिंधुदुर्ग     6.55
  • पालघर      5.26
  • बुलढाणा    4.57

कोल्हापुर, सातारा, सांगली और पुणे जिले में संसर्ग दर जून के अंति सप्ताह में घटा था, लेकिन 27 जून से 3 जुलाई के मध्य यह फिर बढ़ गया। इसमें कोल्हापुर और सातारा में पॉजिटिविटी दर में दो से तीन प्रतिशत की दर बढ़ोत्तरी से चिंता उत्पन्न होने लगी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here