Corona returns: भारत के लिए जनवरी जान का जोखिम, जानें विशेषज्ञों की राय

कोरोना का नया वेरिएंट बीएफ.7 बहुत तेजी से फैलता है। यह एक दिन में 16 लोगों को संक्रमित कर सकता है।

चीन सहित दुनिया के कई देशों में कोरोना हाहाकार मचा रहा है। कोरोना का नया वेरिएंट बीएफ.7 जिस तरह से बढ़ रहा है, उसको देखते हुए भारत को अधिक सावधान रहने की आवश्यकता है। देश के लिए 30 से 40 दिन बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। सरकार ने भी लोगों से सावधानी बरतने की अपील की है।

सावधान रहने की जरूरत
चीन में कोरोना से हाहाकार मचा हुआ है वहीं, जापान में भी कोरोना लोगों को अपने आगोश में लेने लगा है। ऐसे में भारत को सतर्क रहने की जरूरत है। विशेषज्ञों की मानें तो जनवरी में भारत में कोरोना की चौथी लहर आ सकती हैं। इस दौरान भारत में कोरोना के मामले बहुत तेजी से बढ़ सकते हैं। हालांकि, राहत की बात यह है कि इस बार कोरोना पहले की तरह तबाही नहीं मचा पाएगा। इस बार ज्यादा लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इसकी मुख्य वजह भारत में बनी वैक्सीन हैं। देश में लोगों को कोविशील्ड और कोवैक्सीन लगाई गई है। यह दोनों वैक्सीन कोरोना के नए वेरिएंट बीएफ.7 से लड़ने में कारगर हैं। इसलिए भारतियों को ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है, लेकिन सावधानी बहुत जरूरी है।

ये भी पढ़ें- ट्विटर फिर हुआ डाउन, कई उपयोगकर्ताओं ने की शिकायत

नया वेरिएंट बहुत खतरनाक
कोरोना का नया वेरिएंट जिसे बीएफ.7 के नाम से जाना जाता है। यह बहुत की खतरनाक वेरिएंट है। यह वेरिएंट बहुत तेजी से फैलता है। यह एक दिन में 16 लोगों को संक्रमित कर सकता है। कोरोना को लेकर सरकार ने अपनी पूरी तैयारी कर ली है। सरकार का दावा है कि इस बार वैक्सीन की कमी नहीं पड़ेगी और न ही लोगों को ऑक्सीजन के लिए भटकना पड़ेगा। सरकार कोरोना के नए वेरिएंट से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here