यात्रियों की सुविधा के लिए 10 जोड़ी ट्रेनों में लगाए जाएंगे एसी व स्लीपर के अतिरिक्त कोच

रेलवे ने गाड़ियों में वेटिंग को क्लियर कराने के लिए अतिरिक्त कोच लगा रहा है। अतिरिक्त कोचों से यात्रियों को बर्थ मिलने की संभावनाएं बढ़ गई हैं।

उत्तर रेलवे मुरादाबाद रेल मण्डल वरिष्ठ मण्डल वाणिज्य प्रबंधक कोचिंग सुधीर सिंह ने बताया कि पंजाब व पूर्वांचल की ट्रेनों में बढ़ी वेटिंग अब घट जाएगी। रेलवे ने गाड़ियों में वेटिंग को क्लियर कराने के लिए अतिरिक्त कोच लगा रहा है। बेगमपुरा, शहीद समेत दस जोड़ी ट्रेनों में एसी व स्लीपर कोच लगाए जाएंगे। ट्रेनों में अतिरिक्त कोच 11 से 30 नवंबर तक लगेंगे। अतिरिक्त कोचों से यात्रियों को बर्थ मिलने की संभावनाएं बढ़ गई हैं।

दिवाली व छठ पूजा के पहले से शुरू हुई ट्रेनों में भीड़ कम होने का नाम नहीं ले रही। नवंबर माह में भी पंजाब व लखनऊ, वाराणसी जाने वाली गाड़ियां पैक है। लंबी वेटिंग लिस्ट को देखते हुए रेलवे ने मंडल में दस जोड़ी ट्रेनों में स्लीपर व थर्ड एसी के अतिरिक्त कोच लगाने का फैसला लिया है।

सीनियर डीसीएम सुधीर सिंह के अनुसार अमृतसर, वाराणसी, देहरादून, गाजीपुर आदि को संचालित ट्रेनों में कोच लगेंगे। इससे वेटिंग यात्रियों को आसानी से सीट मिल सकेगी। 11 नवंबर से अतिरिक्त कोच लगने का सिलसिला शुरु हो जाएगा। ट्रेनों में स्लीपर व एसी कोच लगाए जाएंगे।

ये भी पढ़ें – विश्व का सबसे अत्याधुनिक एयरपोर्ट होगा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट! जानिये, क्या-क्या होंगी सुविधाएं

सीनियर डीसीएम सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि रेलगाड़ी संख्या 22419-22420 आनंद विहार-गाजीपुर स्लीपर कोच-एक 12 से 30 नवंबर के बीच, 12231-12232 लखनऊ-चंडीगढ़ स्लीपर कोच-एक 11 नवंबर से 3 दिसंबर तक, 14611-14612 गाजीपुर-श्रीमाता वैष्णोदेवी में स्लीपर कोच-दो 17 से 25 नवंबर तक, 12237-12238 वाराणसी-जम्मू एसी में स्लीपर कोच-1 11 नवंबर से एक दिसंबर तक, 14309-14310 देहरादून-उज्जैन स्लीपर कोच-एक 15 नवंबर से एक दिसंबर, 14317-14318 देहरादून-इंदौर स्लीपर कोच-एक 12 नवंबर से दो दिसंबर, 14649-14650 अमृतसर-जयनगर में स्लीपर कोच-दो 12 नवंबर से एक दिसंबर, 14673-14674 अमृतसर-जयनगर स्लीपर कोच-दो 11 नवंबर से दो दिसंबर, 04651-04652 अमृतसर-जयनगर में स्लीपर कोच-दो 13 नवंबर से दो दिसंबर, 04653-04654 अमृतसर-न्यूजलपाई स्लीपर कोच-दो 16 नवंबर से दो दिसंबर तक लगाए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here