कोविड-19 उपचार और टीकाकरण में महाराष्ट्र की धमक

बॉम्बे उच्च न्यायालय ने महाराष्ट्र की कोविड-19 के उपचार और टीकाकरण के लिए प्रशंसा की है। न्यायालय में कोविड-19 संकट काल में राहत की मांग करते हुए याचिकाएं दायर की गई थीं। जिनकी सामूहिक सुनवाई उच्च न्यायालय में हो रही थी।

बॉम्बे उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता और एमएस कर्णिक की पीठ ने राज्य सरकार के प्रयत्नों की प्रशंसा करते हुए टिप्पणी की है कि, देश के कई राज्यों में उच्च न्यायालयों में सुनवाई शुरू नहीं हो पाई है, जबकि महाराष्ट्र में अक्टूबर 2021 से ही प्रत्यक्ष सुनवाई प्रारंभ हो गई है।

ये भी पढ़ें – पीएम ने किया काशी की महिमा का गुणगान, गीता जयंती पर दिया यह संदेश

हमें यह कहने में कोई संकोच नहीं है कि, महाराष्ट्र कोविड-19 से निपटने में अग्रणी राज्यों में से एक है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कुछ राज्यों में अभी भी न्यायालय प्रत्यक्ष सुनवाई के लिए खुल पाए हैं, जबकि यहां संयुक्त प्रयासों के कारण सफलता प्राप्त हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here