जानिये, जिस अमृता अस्पताल का प्रधानमंत्री ने किया लोकार्पण, उसकी क्या है विशेषता

ग्रेटर फरीदाबाद के सेक्टर-88 में 133 एकड़ में बने 2600 बेड का यह निजी अस्पताल है, जिसका निर्माण माता अमृतानंदमयी मिशन ट्रस्ट की ओर से किया गया है।

फरीदाबाद के लोगों को अमृता अस्पताल के रूप में चिकित्सीय क्षेत्र में बड़ी सौगात मिली है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 24 अगस्त को इसका उद्घाटन किया।

ये हैं विशेषताएं
-ग्रेटर फरीदाबाद के सेक्टर-88 में 133 एकड़ में बने 2600 बेड का यह निजी अस्पताल है, जिसका निर्माण माता अमृतानंदमयी मिशन ट्रस्ट की ओर से किया गया है। ट्रस्ट की प्रमुख आध्यात्मिक गुरु मां अमृतानंमयी के विभिन्न कल्याणकारी कार्यों को देखते हुए आर्थिक रूप से कमजोर जरूरतमंदों को भी अस्पताल का लाभ मिलने की बात कही जा रही है। इसका स्वरूप क्या होगा, यह आने वाले समय में पता चलेगा।

-पहले चरण में 550 बेड की सुविधाओं के साथ इसे शुरू किया गया है। इसमें सभी प्रमुख चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध होंगी, जिसमें आर्कियोलाजी, कार्डियक साइंस, न्यूरो साइंस, गेस्ट्रो साइंस, रिनल, ट्रामा ट्रांसप्लांट, मदर एंड चाइल्ड केयर सहित 81 तरह की विशेष चिकित्सीय सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

-अस्पताल के रेजिडेंट मेडिकल निदेशक डॉ. संजीव सिंह के अनुसार दो साल बाद अस्पताल में बेड की संख्या बढ़कर 750 और पांच साल में एक हजार बेड की हो जाएगी। इसमें 534 क्रिटिकल केयर बेड भी शामिल होंगे। फिर चरण दर चरण इसमें विस्तार करते हुए 2600 बेड का अस्पताल जनता को समर्पित होगा।

यह भी पढ़ें – रेवड़ी कल्चर पर सर्वोच्च न्यायालय में होगी सुनवाई, 23 अगस्त को बेंच ने की थी ये टिप्पणी

-मेडिकल निदेशक संजीव सिंह के अनुसार ट्रस्ट की ओर से पहले ही 11 बड़े अस्पताल संचालित हैं और इनमें कोच्चि में सबसे बड़ा 1350 बेड का अस्पताल है। अब यह 2600 बेड का अस्पताल होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here